राहुल-अखिलेश में कोई अंतर नहीं: सीएम योगी

 
CM Yogi Speech

उत्तर प्रदेश विधानसभा के चल रहे बजट सत्र में आज नेता विपक्ष सदन अखिलेश यादव की बातों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री योगी ने जो बात कही उससे पूरा सदन खिलखिला पड़ा, विपक्ष के चेहरों पर भी दबी मुस्कान नज़र आयी. सीएम योगी ने अखिलेश यादव द्वारा कल पेश किया एक प्रसंग पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राहिल गाँधी और अखिलेश में कोई ज़्यादा अंतर नहीं। एक विदेश में जाकर देश की बुराई करता है, दूसरा देश में रहकर प्रदेश की बुराई करता है.

दरअसल नेता विपक्ष अखिलेश यादव ने कल अपने मुख़्यमंत्रित्वकाल काल का एक प्रसंग सदन में रख रहे थे. अखिलेश ने कहा था कि वह एक स्कूल में गए हुए था, वहां उन्होंने एक छात्र से पूछा कि आप हमें पहचानते हो तो उस छात्र ने कहा कि हाँ. अखिलेश ने पूछा अच्छा बताओ हम कौन हैं तो बच्चे ने तपाक से उत्तर दिया किया राहुल गाँधी। अखिलेश की इस बात पर पूरा सदन खिलखिला उठा था विशेषकर सत्ता पक्ष के लोग जिसपर बुरा मानते हुए अखिलेश ने कहा भी था कि सत्ता पक्ष वाले इस मुस्करा रहे हैं कि मैंने एक विरोधी दल के नेता का नाम लिया। 

Read also: केंद्र से भाजपा सरकार को जाना ही होगा: ममता बनर्जी

आज अखिलेश के उसी प्रसंग का हवाला देते हुए कहा कि वैसे दोनों में कोई फ़र्क़ नहीं है. एक विदेश जाकर देश की बुराई करता है तो दूसरा प्रदेश की बुराई. योगी ने आगे कहा कि हर सरकार अपने समय में कुछ न कुछ काम करती है या काम करने का प्रयास करती है, कांग्रेस ने भी किया होगा, सपा और बसपा ने भी किया होगा लेकिन देखना यह होता है कि उन प्रयासों का परिणाम क्या होता है. 

मुख्यमंत्री ने सपा को घेरते हुए कहा कि फ़र्क़ साफ़ है कि परिणाम वहीँ ला सकता है जो समस्या पर कम समाधान पर ज़्यादा ज़ोर देगा, हम लोग समस्या पर ज़्यादा समय खर्च नहीं करते कि चिंता बढ़ जाय, हम लोग समाधान की चिंता करते हैं और यही फ़र्क़ है भाजपा में और दूसरी पार्टियों में. योगी ने कहा कि समस्या के बारे में सोचने वालों को बहाने मिलते हैं जबकि समाधान करने वालों को रास्ते मिल जाते हैं , उत्तम समय कभी नहीं आता समय को उत्तम बनाना पड़ता है.