Kanwar Yatra Update: कांवड़ यात्रा के दौरान किया ये काम तो होगी सख्त कानूनी कार्रवाई,मुख्यमंत्री योगी ने दिए आदेश

 
Kanwar Yatra Update

लखनऊ। कांवड़ यात्रा के दौरान अगर अराजकता की और दूसरे समुदाय की भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया तो इस पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश जारी किए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सावन माह में धार्मिक यात्राओं और जुलूसों में अस्त्र-शस्त्र प्रदर्शन करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जुलूसों में परंपरागत वाद्य यंत्र बजाने की अनुमति होगी। सड़क पर ​किसी प्रकार का कोई धार्मिक आयोजन नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि दूसरे सम्प्रदाय के लोगों को उत्तेजित करने वाले शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाए। कांवड़ियों के रात्रि विश्राम वाले स्थानों के आसपास कड़ी सुरक्षा और सुविधाओं के इंतजाम होने चाहिए। उन्होंने पुलिस को पैदल गश्त करने और पीआरवी 112 को सक्रिय रखने को कहा है।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी मंडलायुक्त, एडीजी जोन, आईजी, डीएम, एसपी सहित जिला स्तरीय प्रशासनिक, पुलिस और अन्य विभाग के अधिकारियों के साथ वीडियों कांफ्रेंसिंग के दौरान निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आईजीआरएस पोर्टल व जनता दर्शन में आने वाली शिकायतों का निस्तारण, कांवड यात्रा और स्वतंत्रता सप्ताह आयोजन के संबंध में हुई तैयारियों की भी समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन पर आई शिकायतों के निर्धारण के आधार पर थाना तहसील व जिला स्तर रैंकिंग के अनुसार अधिकारियों को कार्यप्रणाली बेहतर करने के निर्देश दिए।

Read also: Monsoon Session 2022 Live: हंगामे की भेट चढ़ा संसद के मानूसन सत्र का दूसरा दिन,दो बजे तक के लिए कार्यवाही स्थगित

मुख्यमंत्री ने कहा दो वर्ष के बाद कांवड़ यात्रा शुरू हो रही है। ऐसे में श्रद्धालुओं में उत्साहित स्वाभाविक है। लोग बड़ी संख्या में कांवड़ यात्रा के लिए जा रहे हैं। इसलिए सतर्कता बरतने की जरूरत है। उन्होंने कांवड संघों का पंजीकरण कराने का निर्देश दिए है। किसी भी अप्रिय घटना की जानकारी पर डीएम और एसएसपी को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांवड़ यात्रा के दौरान सेक्टर स्कीम लागू करके चौकसी के पुख्ता इतंजाम किए जाए। शरारतपूर्ण बयान देने वालों के साथ कड़ाई से निपटने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा जो भी माहौल खराब करने की कोशिश करे ऐसे अराजक तत्वों के साथ कठोरता की जाए।