नोएडा में बड़ा हादसा: निर्माणाधीन दीवार गिरी,दो सगे भाइयों सहित पांच की मौत ,मलबे में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए रेस्क्यू

 
Noida News

नोएडा। प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले नोएडा में आज मंगलवार को बड़ा हादसा हो गया। निर्माणाधीन दीवार के गिरने से दो सगे भाइयों सहित पांच मजदूरों की दबकर मौत हो गई। जबकि मलबे में अभी कई लोग दबे हुए हैं। मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए रेस्क्यू कार्य जारी है। घटना सेक्टर 21 में हुई है। जलवायु विहार सेक्टर 21 में  बनी नाली की सफाई के दौरान दीवार गिरने की घटना हुई। जिस समय हादसा हुआ उस दौरान 12 मजदूर काम कर रहे थे। घायल मजदूरो को नोएडा अस्पताल और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलते पुलिस कमिश्नर और डीएम सहित आलाधिकारी मौके पर पहुंचे है। मौके पर फायर, पुलिस और प्राधिकरण अधिकारी भी उपस्थित है। मलबा हटाने का काम जारी है।  नोएडा के सेक्टर-21 जलवायु विहार सोसाइटी की निर्माणाधीन दीवार गिरने के बाद मलबे को मशीनों और हाथों से हटाकर रेस्क्यू का काम शुरू किया गया है। जो दीवार गिरी है वह नाले से लगी थी और बीते दो दिनों से नाला सफाई का काम जारी था। प्राधिकरण अधिकारियों ने जानकारी दी कि दीवार जलवायु विहार आवासीय समिति ने 25 साल पहले बनाई थी।  लेकिन इसका रखरखाव नहीं हो रहा था। ऐसे में दीवार की नींव कमजोर हो गई थी। नाली के सफाई के दौरान आज यह दीवार गिर गई। इस हादसे में पप्पू, पुष्पेंद्र सहित करीब 12 मजदूर मलबे में दबे हुए हैं। 

दीवार गिरते ही चारों ओर चीख-पुकार मच गई। सेक्टर के लोग एकत्र हो गए। लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने राहत बचाव कार्य जारी करते हुए स्थानीय लोगों की मदद से मलबे से मजदूरों को बाहर निकाला। घायल मजदूरों को सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां उपचार चल रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक भर्ती 10 मरीजों में से करीब 6 मरीजों को गंभीर चोटें हैं। उनकी हालत गंभीर है। जिला अस्पताल में जिन दो मजदूरों की मौत हुई है, उनमें पुष्पेंद्र और पान सिंह हैं। पान सिंह बदायूं निवासी है। इसके अलावा अस्पताल में अमित और धर्मवीर की मौत हुई है। अमित और धर्मवीर दोनों सगे भाई हैं।

जलवायु विहार आरडब्ल्यूए अध्यक्ष एयर वाइस मार्शल प्रदीप कुमार के मुताबिक गेट नंबर एक की तरफ नाले से लगी सेक्टर की दीवार गिरने से हादसा हुआ। उन्होंने बताया कि लगभग चार साल पहले नाले की दीवार से अलग सेक्टर दीवार बनाई गई थी। उन्होंने घटना पर गहरा दुख जताया है। दीवार गिरने पर मौके पर पहुंचे डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण की ओर से नाले की सफाई के लिए कांटेक्ट दिया  था। इसका काम किया जा रहा था, ईट निकालने के दौरान नाले की तरफ दीवार गिरी। पूरे मामले की जांच की जा रही है।