गुलामनबी आज़ाद-जयराम रमेश में ट्विटर वार जारी

 
Congress Target Ghulam Nabi Azad

कांग्रेस पार्टी छोड़ने के बाद गुलामनबी आज़ाद और जयराम रमेश के बीच एक तरह से जंग छिड़ी हुई है. दोनों एक दुसरे के खिलाफ हमला करने का एक भी मौका नहीं छोड़ते। कांग्रेस का हाथ झटकने के बाद जयराम रमेश ने अपने एक ट्वीट में कहा था कि गुलामनबी आज़ाद का डीएनए मोदीफाइड हो गया है। जवाब में आज़ाद ने भी पलटवार करते हुए कहा कि पहले वह बताएं कि उनके डीएनए में कितनी पार्टियां शामिल हैं.

जयराम ने अब सरकारी बंगले में मिली रहने की छूट को लेकर आज़ाद पर निशाना साधा है. जयराम रमेश ने अपने ताज़ा ट्वीट में कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर में कांग्रेस की जमीनी हकीकत के बारे में नई दिल्‍ली में मोदी सरकार की ओर से मंजूरशुदा बंगलों में बैठे लोगों द्वारा जो स्थिति बताई जा रही है उससे कहीं अलग है. उन्होंने आज़ाद पर जम्मू कश्मीर को लेकर फ़र्ज़ी ख़बरें भी गढ़ने का आरोप लगाया। 

Read also: Gujarat Road Accident: गुजरात के अम्बाजी मंदिर दर्शन को जा रहे श्रद्धालुओं को तेज रफ्तार कार ने कुचला, छह की मौत

गौरतलब है कि गुलाम नबी आजाद ने 26 अगस्‍त को कांग्रेस पार्टी के सभी पदों और प्राइमरी मेम्बरशिप से इस्‍तीफा दे दिया है. आजाद ने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र उस समय लिखा जब भारत में नहींथी। इस पत्र में ाज़ार ने कांग्रेस पार्टी की बर्बादी का ज़िम्मेदार राहुल गाँधी को बताया था और कहा था कि यह पार्टी अब कभी खड़ी नहीं हो सकती। आज़ाद ने कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर भी तंज़ करते हुए कहा था कि इसकी जगह पर पार्टी को कांग्रेस जोड़ो यात्रा निकालने चाहिए। आज़ाद ने राहुल गाँधी पर बचकाने व्यवहार का आरोप भी लगाया। कांग्रेस पार्टी से इस्तीफ़ा देने के बाद आज़ाद अब जम्मू कश्मीर में अपनी पार्टी बनाएंगे। उधर कश्मीर से कांग्रेसियों के पार्टी छोड़ने और आज़ाद खेमे से जुड़ने की रोज़ ख़बरें आ रही है.