चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS कांड की जांच के लिए SIT का गठन

 
Chandigarh University

पंजाब की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में हुए MMS कांड की जांच के लिए SIT का गतह्ण कर दिया गया है, मामला चूंकि महिलाओं से जुड़ा है इसलिए टीम में महिला अफसरों को ही रखा गया है। बता दें कि इस मामले में MMS बनाने वाली लड़की के अलावा अब तक तीन लोग गिरफ्तार किये गए हैं जिनमें वीडियो बनाने वाली छात्रा का बॉयफ्रेंड भी शामिल है. वहीँ रविवार देर रात तक छात्रों ने कैम्पस में धरना-प्रदर्शन जारी रखा। आरोपियों की गिरफ़्तारी के बाद भी उनका गुस्सा शांत नहीं हो रहा है, इसलिए यूनिवर्सिटी को 24 सितम्बर तक बंद कर दिया गया है. 

जानकारी के मुताबिक इस MMS लीक कांड का मुख्य आरोपी कल शिमला से पकड़ा गया, ये उसी लड़की का गर्ल फ्रेंड है जिसने हॉस्टल के बाथरूमों से छात्रों के नहाते हुए वीडियो बनाये और उसे शिमला अपने साथी के पास भेजे। इस मामले में एक और व्यक्ति को भी पंजाब पुलिस ने शिमला जाकर हिरासत में लिया है। पुलिस ने इस मामले में IPC की धारा 354C और IT एक्ट की धारा 66E के तहत मामला दर्ज कर लिया है. वहीँ मोहाली एसएसपी के मुताबिक फोरेंसिक जांच के लिए आरोपी छात्रा का मोबाइल फोन सीज कर लिया गया है. 

दरअसल शनिवार देर रात यूनिवर्सिटी में उस समय हंगामा मच गया जब पता चला कि हॉस्टल की एक छात्रा ने 60 छात्राओं के बाथरूम में नहाते हुए वीडियो बनाकर शिमला में रहने वाले अपने बॉयफ्रेंड के जरिए सोशल मीडिया पर वायरल करा दिए। इस खबर के सामने आते ही लड़कियों के बीच हड़कम्प्प मच गया।  खबरे आने लगीं कि कुछ लड़कियों आत्महत्या को कोशिश भी की. पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन के हाथ पैर फूल गए. तुरंत ही डैमेज कण्ट्रोल की कोशिशें होने लगीं, पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन की तरफ से बयान आने लगे कि आत्महत्या के प्रयासों की खबरे कोरी अफवाह हैं. उधर कैंपस में स्टूडेंट्स का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा था. मजबूरन यूनिवर्सिटी को 6 दिनों के लिए बंद करना पड़ा ताकि मामले को निपटाया जा सके.