Amarnath Cloud Burst: अमरनाथ में बादल फटने की घटना में राजस्थान के सात श्रद्धालुओं की अब तक मौत

 
Amarnath Cloudburst

जयपुर। अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने से राजस्थान के नागौर जिले के चार श्रद्धालुओं की मौत हो गई है। नागौर के चार दोस्त अमरनाथ यात्रा पर साथ ही गए थे। हादसे में चारों दोस्तों की मौत से उनके घरों में मातम पसरा हुआ है। बता दें कि अमरनाथ हादसे में अब तक राजस्थान के सात लोगों की मौत हो चुकी है।

Read also:  Breaking News Today: नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वाले युवक की तलवार से गला काटकर हत्या,पूरे राजस्थान में तनाव

जानकरी के अनुसार चारों दोस्तों ने गत छह जुलाई को पहलगाम से यात्रा शुरू की थी। आठ जुलाई को हादसे से पहले चारों ने बाबा अमरनाथ के दर्शन कर लिए थे और वो दर्शन कर वापस लौट रहे थे। लेकिन इसी बीच बादल फटने से जलसैलाब आ गया और चारों दोस्त की मोके पर ही मौत हो गई। बाबा अमरनाथ गुफा में दर्शन के लिए जाने से पहले चारों ने अपने गांव के ग्रुप में अपने फोटो भेजे थे। हादसे में मृतकों में प्रहलाद राम नागरमल निवासी तोशीना, यजुवेंद्र सिंह पुत्र शंकर सिंह थेबड़ी, विजय सिंह पुत्र भंवर सिंह निवासी बरवाला और वीर सिंह निवासी रूपपुरा की मौत हुई है।

Read also: Mathura News Today: 35 गौवंश कैंटर से हुए बरामद, 3 मृत, फायरिंग कर फरार हुए तस्कर

हादसे के बाद शुरुआती तौर पर 15 शवों में चारों दोस्तों के शव बरामद हो गए थे। लेकिन शिनाख्त नहीं हो पाने के कारण परिजनों को इसकी सूचना नहीं दी जा सकी थी। नजदीकी रिश्तेदारों से शिनाख्त करवाने के बाद ही स्थानीय प्रशासन को जम्मू कश्मीर प्रशासन की तरफ से इनके मृत्यु की सूचना दी गई। चारों दोसतों की मौत की सूचना मिलने के बाद से परिवार शोक में डूबा है।
आज सोमवार सुबह चारों मृतकों के शव किशनगढ़ एयरपोर्ट पहुंच गए। जहां से उनको पैतृक गांव लेकर जाया गया है। चारों मृतक दोस्त फाइनेंस के व्यवसाय से जुड़े थे और लंबे समय से एक साथ मिलकर काम कर रहे थे।