Sanjay Raut ED Interrogation: शिवसेना नेता संजय राउत के घर रविवार की सुबह ईडी की छापेमारी,हिरासत में लेकर पूछताछ

 
Sanjay Raut ED Interrogation

मुंबई। शिवसेना नेता संजय राउत के घर आज रविवार सुबह ईडी ने बड़ी कार्रवाई की है। जानकारी के अनुसार  सुबह उनके आवास पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने छापा मारा है। बताया जा रहा है कि ईडी की टीम राउत को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है। राउत पर जांच में सहयोग न करने का आरोप है। महाराष्ट्र के एक हजार करोड़ से ज्यादा के पात्रा चॉल जमीन घोटाला मामले में ईडी टीम संजय राउत से पूछताछ कर रही है। उन्हें 27 जुलाई को ईडी ने तलब किया था। लेकिन संजय राउत अधिकारियों के सामने पेश नहीं हुए थे। इसके बाद ईडी के अधिकारी उनके घर पहुंचे हैं। 

Read also: गुजरात चुनावी दंगल: मौके पर चौका मारना चाहते हैं वाघेला

मामला मुंबई के गोरेगांव इलाके में पात्रा चॉल से जुड़ा है। जो कि महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवेलपमेंट अथॉरिटी का भूखंड है। इसमें करीब 1034 करोड़ का घोटाला होने के सबूत ईडी के हाथ लगे हैं। केस में संजय राउत की नौ करोड़ रुपये और राउत की पत्नी वर्षा राउत की दो करोड़ रुपये की संपत्ति अब तक जब्त हो चुकी है। रीयल एस्टेट कारोबारी प्रवीण राउत ने पात्रा चॉल में रह रहे लोगों से धोखा किया है। कंस्ट्रक्शन कंपनी को इस भूखंड पर तीन हजार फ्लैट बनाने का काम दिया गया था। इनमें से 672 फ्लैट यहां पर पहले से रह रहे लोगों को देने थे। शेष एमएचएडीए और निर्माणकर्ता कंपनी को दिए जाने थे। लेकिन वर्ष 2011 में इस भूखंड के कुछ हिस्सों को दूसरे बिल्डरों को बेच दिया था।  यह पूरा मामला वर्ष 2020 में सामने आया। जब पीएमसी बैंक घोटाले की जांच हो रही थी। उसी दौरान प्रवीण राउत की कंस्ट्रक्शन कंपनी का नाम सामने आया। तब पता चला कि बिल्डर राउत की पत्नी के बैंक खाते से संजय राउत की पत्नी वर्षा को 55 लाख रुपये कर्ज के रूप में दिए गए है। आरोप है कि संजय राउत ने इसी रुपये से दादर में फ्लैट खरीदा था। प्रवीण राउत गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड का पूर्व निदेशक है।