Punjab CM: फ्रैंकफर्ट में विमान से उतारे गए पंजाब के सीएम मान, ये थी वजह

 
Punjab CM

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान का मदिरा प्रेम जग ज़ाहिर है, आम आदमी पार्टी ने पंजाब चुनाव के दौरान जब भगवंत मान का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए घोषित किया था तब विपक्ष ने केजरीवाल की काफी खिंचाई की थी कि उन्हें एक नशेड़ी के सिवा पूरे पंजाब में और कोई नहीं मिला। लेकिन उनके नशे की लत ने आज पूरी दुनिया में भारत की उस वक्त किरकिरी करा दी जब नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट में उन्हें विमान से उतार  दिया गया, हालाँकि आम आदमी पार्टी इसे विपक्षी पार्टियों की साज़िश बता रही है. 

मीडिया में चल रही खबर के अनुसार जर्मनी से भारत लौट रहे पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को फ्रैंकफर्ट में उस समय फ्लाइट से उतार दिया गया जब वो टेक ऑफ करने वाली थी. फ्लाइट से उतरने की जो वजह सामने आयी है उसके अनुसार भगवंत मान उस समय काफी नशे में थे इसलिए उनको फ्लाइट छोड़ने के लिए मजबूर किया गया. उसी विमान में बैठे एक चश्मदीद ने इस बात की पुष्टि की कि भगवंत सिंह मान को नशे में होने की वजह से ही विमान से उतारा गया था. 

इस घटना पर शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट किया कि ऐसी ख़बरें पंजाबियों को शर्मिंदा करती हैं. SAD के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता मलविंदर सिंह कांग ने कहा कि यह पंजाब के सीएम को बदनाम करने की साजिश है. उन्होंने कहा कि हमारे मुख्यमंत्री भगवंत मान जी जर्मनी से पंजाब निवेश लाने की कोशिश में लगे हैं लेकिन विपक्ष को ये बात हज़म नहीं हो रही है और बेबुनियाद आरोप लगा रही है.  उन्होंने इन आरोपों को झूठा और तुच्छ करार दिया है. 

वहीँ एक मीडिया की एक रिपोर्ट में यह कहा गया है कि पंजाब के मुख्यमंत्री ने तबियत खराब होने के कारण फ्लाइट नहीं ली थी. मान और उनकी टीम निर्धारित समय पर फ्लाइट में नहीं बैठे. रिपोर्ट के दावे के मुताबिक भारतीय वाणिज्य दूतावास ने पंजाब के सीएम को हवाई अड्डे से वापस लाने  के लिए  दोबारा कैब बुलाई क्योंकि वह फ्लाइट में नहीं चढ़ सके थे.