Delhi News: LG का मुख्यमंत्री केजरीवाल को एक और झटका,नई आबकारी नीति के खिलाफ सीबीआइ जांच के आदेश

 
Delhi News

नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने 24 घंटे के अंदर ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दूसरा जोरदार झटका दिया। उपराज्यपाल ने दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति को लेकर कड़ा फैसला किया है। उपराज्यपाल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सरकार पर आबकारी नीति के नियमों की अनदेखी करने के आरोप लगाए हैं। उपराज्यपाल ने इसकी सीबीआइ जांच की सिफारिश की है। जानकारी के अनुसार, एलजी वीके सक्सेना ने दिल्ली की आप सरकार की आबकारी नीति 2021-22 में नियमों के उल्लंघन और प्रक्रियागत कमियों को लेकर सीबीआइ जांच की सिफारिश केंद्र से की है। बता दें कि इससे पहले गत  गुरुवार को उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सिंगापुर जाने की अनुमति देने से मना कर दिया। एलजी ने मुख्यमंत्री केजरीवाल के सिंगापुर दौरे से संबंधित फाइल को वापस लौटा दिया था। एलजी ने मुख्यमंत्री को सिंगापुर में हो रही 'व‌र्ल्ड सिटी समिट' और डब्ल्यूसीएस मेयर्स फोरम में शामिल नहीं होने की सलाह दी।

Read also: UNSC Meeting: रासायनिक हथियारों के प्रति भारत ने दुनिया को किया आगाह,दिया दो लाख डालर का अनुदान

उपराज्यपाल ने कहा कि प्रथम दृष्टया सम्मेलन मेयरों का है। जहां मुख्यमंत्री की उपस्थिति उचित नहीं है। वहीं  सूत्रों के अनुसार उपराज्यपाल ने सम्मेलन स्वरूप और उसमें शामिल होने वाले लोगों की प्रोफाइल एवं सम्मेलन को लेकर विचार विमर्श किया। जिसमें पाया कि यह सम्मेलन शासन के विभिन्न पहलुओं पर विचार करने के लिए है। इनसे संबंधित कार्य दिल्ली सरकार के अतिरिक्त विभिन्न नगर निकायों एनडीएमसी, दिल्ली नगर निगम और डीडीए द्वारा होते हैं। डब्ल्यूसीएस स्मार्ट सिटी वर्कशाप का विषय दिल्ली में एनडीएमसी से संबंधित है। ऐसे में इस तरह के सम्मेलन में मुख्यमंत्री का शामिल होना एक गलत परंपरा की शुरुआत होगी। हालांकि उपराज्यपाल की सलाह पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी असहमति जताई है।