किसी को इस्तेमाल कर फेकना नहीं चाहिए : नितिन गडकरी

 
 नितिन गडकरी

नागपुर। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एक बार फिर अपने बयानों को लेकर चर्चा में हैं। नागपुर में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गडकरी ने मौजूद उद्यमियों को कई सीख और नसीहत दे डाली। गडकरी ने अपने संबोधन में रिचर्ड निक्सन का हवाला दिया और कहा कि एक व्यक्ति का अंत उस समय नहीं होता जब वह हार जाता है। लेकिन जब वह छोड़ दिया जाता है तो वो समाप्त हो जाता है। उन्होंने कहा कि जो कोई व्यवसाय, सामाजिक कार्य या राजनीति में है। उसके लिए मानवीय संबंध बहुत बड़ी ताकत है।हाल में सुर्खियों में रहे भाजपा नेता ने कहा कि किसी को कभी  इस्तेमाल कर फेंकना नहीं चाहिए।

Read also: Noida Twin Towers: एक घंटा बंद रहेगा एक्सप्रेस वे, लोगों को खिड़की नहीं खोलने की सलाह ,नो फ्लाइंग जोन ने तब्दील इलाका

अच्छे दिन हों या बुरे दिन अगर एक बार किसी का हाथ थाम लें तो उसे कभी नहीं छोड़ें। सिर्फ उगते सूरज की पूजा न करें डूबते सूरज की भी पूजा करनी चाहिए। जब उन्हें उनकी पार्टी के संसदीय बोर्ड से हटा दिया गया था तब उस दिन को याद कर उन्होंने बताया कि वो इससे हताश नहीं हुए। गडकरी ने याद करते हुए बताया कि जब वह एक छात्र नेता थे, तब कांग्रेस नेता श्रीकांत जिचकर ने उन्हें बेहतर भविष्य के लिए कांग्रेस में जाने के लिए कहा था। तब उन्होंने श्रीकांत से कहा था कि मैं कुएं में कूदकर मर जाऊंगा, लेकिन कांग्रेस में शामिल नहीं होऊंगा, क्योंकि मुझे कांग्रेस पार्टी की विचारधारा बिल्कुल पसंद नहीं है।