Anna Hazare Letter: अन्ना के पत्र पर केजरीवाल ने दिया यह जवाब

 
Anna Hazare letter:

दिल्ली में लोकपाल आंदोलन कर केजरीवाल को राजनीती में स्थापित करने वाले अन्‍ना हजारे ने आज केजरीवाल सरकार की नई शराब नीति को लेकर अपने पुराने चेले केजरीवाल पर ज़ोरदार हमला बोला और कहा कि वह सत्ता के नशे में चूर हैं।  अन्ना ने केजरीवाल पर औरभी कई गंभीर आरोप लगाए, अब अपने पुराने राजनीतिक गुरु के पत्र पर केजरीवाल ने सीधे अन्ना हज़ारे को जवाब न देते हुए भाजपा को घेरा है. 

अन्ना हज़ारे के पत्र को लेकर अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि जब भी ये (भाजपा) कुछ कहते हैं और जनता इनको अनसुना कर देती है तो फिर यह किसी को( अन्ना हज़ारे) को सामने लाते हैं, केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के चुनाव के दौरान यह कुमार विश्वास को सामने लेकर आये, केजरीवाल ने कहा कि पहले भाजपा ने कहा कि केजरीवाल आतंकवादी है, लोगों ने इनकी बात नहीं सुनी और पंजाब में प्रचंड बहुमत से AAP की सरकार बनवा दी. अब यह कह रहे हैं कि शराब घोटाला हो गया, जबकि सीबीआई ने कह दिया कि कोई घोटाला नहीं हुआ तो फिर अब यह अन्ना हज़ारे को आगे कर रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि भाजपा दिल्ली में 20-20 करोड़ रुपए देकर एमएलए खरीदना चाहती थी, यह बात सामने आ चुकी है और इस मामले की जांच होनी। 

सिसोदिया के बैंक लॉकर की सीबीआई जांच पर केजरीवाल ने कहा कि जब हम पब्लिक लाइफ में आते हैं तो हमें हर जांच का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए. सिसोदिया जी के घर पर 14 घंटे की रेड के बाद भी कुछ नहीं निकला. सात घंटे तक उनसे सवाल किये गए लेकिन सिसोदिया ने सभी सवालों का संतोषजनक जवाब दिया. आज सीबीआई ने लॉकर भी चेक, वहां भी कुछ नहीं मिला. केजरीवाल ने कहा कि अब तो सीबीआई को सरेंडर कर मनीष सिसोदिया को क्लीन चिट दे देना चाहिए. लेकिन केंद्रीय एजेंसी अपनी मर्ज़ी से ऐसा नहीं कर सकती क्योंकि यह सारी कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है.