Heavy Rain And Flood: महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से बुरा हाल,11 जिलों में रेड अलर्ट जारी

 
Heavy Rain And Flood

नई दिल्ली। बारिश और बाढ़ का कहर देश के कई राज्यों में जारी है। महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से बुरा हाल है। कई स्थानों पर भूस्खलन की घटना सामने आई है। मौसम विभाग के मुताबिक मुंबई और पुणे सहित महाराष्ट्र के 11 जिलों में आज रेड अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने महाराष्ट्र के रत्नागिरि,मुंबई, रायगढ़, कोल्हापुर, सतारा, अमरावति,  सिंधुदुर्ग और ठाणे में बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं नासिक और पुणे में भारी बारिश की आशंका जताई है। पालघर में भारी बारिश के चलते मकान पर चट्टान गिरने से पिता और पुत्री की मौत हो गई। वहीं गढ़चिरौली जिले में 19 गांवों के करीब दो हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा है। जिले में आज सुबह पिछले 24 घंटे के अंदर 97 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग ने बुधवार को बारिश का यलो अलर्ट जारी किया था। राज्य में गोदावरी, कालेश्वरम और इंद्रावती सहित प्रमुख नदियां खतरे के निशान से ऊपर हैं। मुंबई-अहमदाबाद व्यस्त राजमार्ग पर पेड़ गिर गए हैं। 

Read also: Bulldozer Action: यूपी सरकार की बुलडोजर कार्रवाई रोकने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार,जमीयत उलमा को झटका

पालघर में लगातार बारिश के कारण पहाड़ी से एक चट्टान के मकान पर गिरने से पिता पुत्री की मौत हो गई। वहीं परिवार के अन्य सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग प्रमुख विवेकानंद ने बताया कि अनिल सिंह और उनकी बेटी रोशनी सिंह की मौत हो गई। जबकि पत्नी वंदना सिंह और बेटा मलबे में फंसे थे। उन्हें स्थानीय लोगों और दमकल कर्मियों की मदद से निकाल अस्पताल पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने बताया कि पुणे-सतारा हाइवे पर कटराज सुरंग के पास भूस्खलन काफी परेशानी हुई। एक बड़ी चट्टान गिरने से सड़क जाम हो गई।  हिंगोली जिले के कुरुंडा गांव में बाढ़ भयावह है। बाढ़ में करीब तीन सौ परिवारों के राशन और अन्य सामान बह गए हैंं। इन परिवारों ने चार दिन से खाना नहीं बनाया। राजस्व अधिकारी ने बताया कि बाढ़ का पानी बाहर निकल गया है। बारिश लगातार जारी है। 150 मकान ढह गए। प्रभावित परिवारों को 5000-5000 रुपये दिए जाएंगे। गांव में एनजीओ की ओर से राशन बांटे जा रहे हैं।