Weather News: सितंबर माह की पहली बारिश ने लोगों को दिलाई गर्मी से निजात, किसानों को भी मिली राहत

 
Weather News

सितंबर महीने की पहली बारिश ने जहां लोगों को गर्मी से निजात दिलाई है। वहीं खेतों में कई जिलों में पानी भर गया है। बारिश से फसलों की सिंचाई हो रही है। लेकिन तेज हवा से कही पर गन्ने और धान की फसल गिर गई है। बारिश न होने से गन्ने की फसल में इस बार वृद्धि कम हुई है। वहीं धान की फसल में रोग लगा है। कृषि वैज्ञानिक के मुताबिक अभी मौसम में गर्मी है। बारिश से गन्ने और धान की फसल को लाभ होगा।  इस बार मानसूनी सीजन में पूरा पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश बारिश को तरस गया। अगस्‍त के बाद सितंबर में मानसून मेहरबान नहीं हुआ। जिससे मौसम में बदलाव नहीं आया और गर्मी पूरे चरम पर रही। बारिश नहीं होने से ही गर्मी और उमस काफी बढ़ गई थी। वहीं बुधवार के बाद आज गुरुवार को मेरठ में आसमान पर बादल दिखाई दिए और बारिश हुई। हालांकि बुधवार की शाम को आसमान पर बादल नजर आए और रात में हल्की बूंदाबांदी शुरू हो गई थी। लोगों को बारिश से कुछ राहत मिली है।

मेरठ ही नहीं आसपास के जिलों में भी आज गुरुवार की सुबह से ही बारिश हो रही है। इससे मौसम में हल्की ठंडक घुल गई है। पिछले कई दिनों से दिन में तेज धूप निकलने के कारण मौसम में उमस थी। जिससे लोग काफी परेशान रहे। बुधवार को सुबह बूंदाबांदी हुई थी। जिसके बाद दिनभर बादल रहे। वहीं आज गुरुवार सुबह से आसमान से पानी बरसना आरंभ हो गया। इस बरसात को सब्जी एवं अन्य फसलों के लिए लाभदायक बताया जा रहा है। खेतों में खड़ी फसल को इस समय सिंचाई की आवश्यकता है।
पूरे पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश में सितंबर के शुरूआती दिनों से भीषण उमस का दौर चल रहा था। इस बीच मेरठ में बुधवार को अधिकतम तापमान 31ः1 और न्यूनतम तापमान 22ः8 डिग्री सेल्सियस रहा। आर्द्रता अधिकतम प्रतिशत 80 न्यूनतम प्रतिशत 65 दर्ज किया गया। वेस्‍ट यूपी में इनदिनों तानमान में परिवर्तन का दौर जारी है। वहीं अभी बारिश के आसार नहीं हैं। दक्षिण पश्चिम मानसून का पश्चिम सिरा एनसीआर के ऊपर से गुजरता है लंबे समय से निष्क्रिय पड़ा हुआ है। जिससे बारिश नहीं हो रही है। जिसके चलते तापमान बढ़ रहा है। गन्ना और सब्जी के किसानों को सिंचाई के लिए ट्यूबवेलों का सहारा लेना पड़ रहा है। जिससे लागत बढ़ रही है।