Earthquake In Nepal: काठमांडू से बिहार तक रविवार की सुबह भूकंप से हिली धरती,तीव्रता 5.5

 
Earthquake In Nepal

काठमांडू। आज सुबह नेपाल की राजधानी काठमांडू से लेकर बिहार तक भूकंप से धरती हिल गई। नेपाल और बिहार में लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए हैं। भूकंप की तीव्रता 5.5 बताई जा रही है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक सुबह करीब 7:58 मिनट पर झटके महसूस किए है। भूकंप इतना तेज था कि बिहार के कई जिलों में असर देखने को मिला। लोगों का कहना है कि उन्होंने भूकंप के झटके महसूस किए हैं।  आज रविवार छुट्टी वाला दिन होने के कारण लोग घरों पर थे। ऐसे में सुबह आए भूकंप के झटकों ने लोगों को दहशत में डाल दिया। भूकंप के झटके महसूस होते ही लोग घरों से बाहर निकल आए हैं। हालांकि,गनीमत यह रही कि भूकंप के कारण किसी जान-माल के नुकसान की जानकारी अभी तक नहीं है। 

Read also: Telangana KCR Meets Akhilesh Yadav: तेलंगाना में भाजपा के बढ़ते कदमों को रोकने के लिए मुख्यमंत्री केसीआर ने की अखिलेश से मुलाकात

जानिए आखिर क्यों आते हैं भूकंप : 

धरती चार परतों से बनी होती हैं। इनर कोर, आउटर कोर, मैनटल और क्रस्ट। क्रस्ट व ऊपरी मैन्टल कोर को लिथोस्फेयर कहलाती है। ये 50 किलोमीटर की मोटी परत कई हिस्सों में बंटी है जिसे टैकटोनिक प्लेट्स कहते हैं। टैकटोनिक प्लेट्स अपनी जगह पर कंपन करती हैं और जब इस प्लेट में बहुत ज्यादा कंपन होता है, तो भूकंप महसूस होता है। भूकंप का केंद्र वह स्थान है जिसके ठीक नीचे प्लेटों में हलचल से धरती हिलती है। इस स्थान पर या इसके आसपास क्षेत्रों में भूकंप का असर अधिक होता है। अगर रिक्टर स्केल पर सात या इससे अधिक की तीव्रता वाला भूकंप आए तो आसपास के 40 किमी के दायरे में इसके झटकों का असर होता है।