Breaking News: नेपाल सीमा से लगे क्षेत्रों में भी चीन ने किया अतिक्रमण,रुइला सीमा पर लगाई बाड़

 
Breaking News

काठमांडू। भारत के लद्दाख और भूटान के दोकलाम जैसे सीमावर्ती क्षेत्रों में कब्जा की फिराक में जुटा ​चीन ने अब नेपाल सीमा पर भी जमीन को हथियाना शुरू कर दिया है। चीन ने नेपाल सीमा से सटी कई सौ वर्ग एकड जमीन पर बाड़ लगाकर कब्जा करने की कोशिश की है। चीन ने नेपाल सीमा से लगे इलाकों पर अतिक्रमण करना शुरू कर दिया है। नेपाल सीमा पर चीन द्वारा बड़े पैमाने पर अतिक्रमण की सूचनाएं आ रही हैंं। नेपाल के नागरिक संगठन ने देश के भू प्रबंधनमंत्री शशि श्रेष्ठ को इस संबंध में एक ज्ञापन सौंपकर नेपाल की जमीन हड़पने का चीन पर आरोप लगाया है।  नेपाल 'राष्ट्रीय एकता अभियान' प्रमुख बिनय यादव ने काठमांडू में मंत्री शशि श्रेष्ठ को इस संबंध में ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में दावा किया है कि चीन अब नेपाल की जमीन हड़प रहा है। ज्ञापन में दावा किया है कि चीन ने गोरखा में चुमानुबरी ग्रामीण इलाके में रुइला सीमा पर बाड़ लगाकर कब्जा किया है। 

Read also: Petrol-Diesel Price Today: जानिए आज क्या है आपके शहर में पेट्रोल डीजल का भाव

बिनय यादव ने आरोप लगाया कि रूइला सहित नेपाल-चीन सीमा के विभिन्न इलाकों में अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन कर दोनों देशों की दोस्ती का अपमान कर रहा है। यह नेपाल की संप्रभुता को सीधी चुनौती है। उन्होंने कहा कि नेपाल की क्षेत्रीय अखंडता पर चीन बार—बार हमले कर रहा है। इसके लिए चीन को कई बार आगाह किया गया है। लेकिन इसके बाद भी चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा।  इसके साथ उन्होंने वर्तमान सरकार द्वारा नेपाल-चीन सीमा पर अतिक्रमण के खिलाफ उठाए कड़े कदमों की सराहना की है। यादव ने कहा कि सरकार द्वारा किए कूटनीतिक प्रयासों के बाद सीमा पर चीन द्वारा अतिक्रमण जारी है। हम चीन के इस अतिक्रमणकारी रवैया के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हैं। एकता अभियान सरकार को इसके लिए पूरा समर्थन देगा। 
चीन ने इससे पहले गत जून माह में उत्तरी गोरखा में नो-मैन्स-लैंड के पास बाड़ लगाकर नेपाली भूमि पर अतिक्रमण कर लिया था। अब कहा जा रहा है रुइला सीमा पर चीन ने अवैध कब्जा कर लिया है।