Big Breaking: अन्ना हजारे की मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नसीहत,‘ आप भी सत्ता के नशे में डूब गए’

 
Big Breaking

नई दिल्ली। लोकपाल बिल को लेकर दिल्ली में हुए ऐतिहासिक धरने से उपजे नेता मुख्यमंत्री अरविंद केेजरीवाल को देश के अग्रणी समाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने पत्र लिखकर नसीहत दी है। पूरा मामला दिल्ली सरकार की चर्चित नई शराब नीति को लेकर है। जिसमें अन्ना हजारे अरविंद केजरीवाल से इस मुददे पर नाराज हैं। वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर ये नसीहत दी है। अन्ना हजारे ने अपने पत्र में केजरीवाल को उलाहना देते हुए कहा है कि आप भी सत्ता के नशे में डूब गए हैं। एक बड़े आंदोलन से जन्मी एक पार्टी को यह सब शोभा नहीं देता। कृपया इस चीजों को छोडे़ वरना आपका भी वहीं हाल होगा जो अन्य राजनेताओं और दलों का होता है।  

Read also: Congress President Poll: कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए सामने आये थरूर और दिग्विजय के नाम

अन्ना ने केजरीवाल से कहा है कि आपने ‘स्वराज’ नाम की किताब में कितनी आदर्श बातें लिखी थीं। आप से देश को और जनता को बड़ी उम्मीद थी।  लेकिन अब लगता है कि आप राजनीति में जाने और मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने आदर्श और विचारधाराओं को पूरी तरह से तिलांजलि दे चुके हैं। अन्ना नें कहा कि इसके साथ ही आप वो संस्कार भी भूल गए। जो आपके भीतर धरने के दौरान दिखाई दिए थे। जिस प्रकार शराब का नशा होता है। उसी प्रकार सत्ता का नशा भी होता है। अन्ना ने केजरीवाल को नसीहत देते हुए कहा कि आप भी सत्ता के नशे में डूब गए हो।