नीतीश बाबू पूरे हिसाब के साथ आया हूं, बिहार की जनता सब जानती है उनको क्या चाहिए - अमित शाह

 
अमित शाह

पूर्णिया। केंद्रीय गृहमंत्री व भाजपा के पूर्व राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह आज से अपने दो दिवसीय दौरे पर बिहार में हैं। आज उन्होंने पूर्णिया में जनभावना सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि नीतीश बाबू पूरे हिसाब के साथ आया हूं, बिहार की जनता जानती है उनको क्या चाहिए। अमित शाह ने सभा में कहा कि उनके आने से लालू-नीतीश की जोड़ी के पेट में दर्द हो रहा है। गृहमंत्री ने कहा कि कुटिल राजनीति कर नीतीश कुमार प्रधानमंत्री कभी नहीं बन सकते। रैली के बाद अमित शाह किशनगंज जाएंगे। किशनगंज में वे सीमांचल के भाजपा नेताओं के साथ बैठक करेंगे। अमित शाह किशनगंज में नेपाल सीमा पर एसएसबी कैंप जाएंगे। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लालू और नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले बिहार में क्या हो रहा था? ये सबको पता है। दिनदहाड़े अपहरण होता और फिरौती मांगी जाती थी, हत्याएं होती थी। लालू लट्ठ रैली निकालते थे। गांधी मैदान में अब लालू-नीतीश दोनों लट्ठ रैली निकालेंगे। कैसा दृश्य होगा उस रैली का जरा बताइए।

अमित शाह ने कहा कि सीमांत जिलों में जनजातियों के सा​थ काफी अत्याचार हुआ है। उन्हें भगाया जा रहा है। भाजपा ने जनजातीय समाज की द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति बनावाया। अमित शाह ने लोगों से पूछा-क्या उन्हें फिर से जंगलराज, फिरौती और अपहरण वाला बिहार वापस चाहिए। जब लालू सरकार में है तो कौन इसको रोक सकता है। बिहार में नई सरकार के शपथ ग्रहण के साथ कानून-व्यवस्था की स्थिति बदतर हो गई। बिहार में ललन सिंह को नेता बनाया है। चारा घोटाले के ​खिलाफ जो आवाज उठाते थे वो आज घोटालेबाज बिहार में मंत्री बन गए हैं। 

अमित शाह ने कहा कि मोदी जी ने 2015 में कहा था कि हम एक लाख 25 हजार करोड़ रुपये बिहार के विकास में खर्च करेंगे। मैं सात साल बाद बिहार आया। नीतीश बाबू...मैं इसका हिसाब लेकर आया हूं। महामार्ग निर्माण के लिए 14 हजार करोड़ रुपया। ग्रामीण सड़क के लिए 22 हजार करोड़ रुपये खर्च किए हैं। रेलवे के लिए 56 हजार करोड़ खर्च किया गया है। हवाई अड्डे के लिए 1280 करोड़ खर्च हुआ है। उन्होंने कहा कि पहले भाजपा को धोखा दिया। जीतन राम मांझी को धोखा दिया। रामविलास पासवान को धोखा दिया। लालू यादव को धोखा दिया। फिर भाजपा को धोखा देकर लालू यादव के साथ हो लिए। मैं सभा से नीतीश कुमार और लालू यादव से कहना चाहूंगा कि ये जो दलबदल आप कर रहे हैं। बिहार की जनता के साथ धोखा है। 

अमित शाह ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार गरीबों की सरकार है। पीएम मोदी ने घर देने का काम किया। घरों में बिजली पहुंचाई। माता-बहनों को गैस सिलेंडर देने का काम किया। एंटी कांग्रेस राजनीति से जन्म लेने वाले नीतीश कुमार ने पीएम बनने के लिए कांग्रेस की गोद में बैठना स्वीकार कर लिया है। नीतीश कुमार ने कई लोगों के साथ धोखा किया है। जनता पार्टी में देवीलाल गुट के साथ चले गए थे। लालू प्रसाद को छोड़ा, समाजवादी नेता जार्ज फर्नांडीस को भी धोखा दिया। जार्ज को हटाकर नीतीश जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए। यह धोखा बिहार के जनादेश के साथ किया है।