Terrorist in Assam: असम में अल—कायदा ने मजबूत की अपनी जड़े, 11 लोगों को हिरासत में लिया

 
Terrorist in Assam

गुवाहाटी। पूर्वोत्तर राज्य असम में बड़ी कार्रवाई अल-कायदा और बांग्लादेश स्थित अंसारुल्लाह बांग्ला टीम सहित आतंकी संगठनों के साथ संबंध रखने के आरोप में 11 लोगों को हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए आरोपियों में एक राज्य में मदरसा शिक्षक  है। पुलिस के अनुसार असम के बारपेटा,मोरीगांव,  गुवाहाटी और गोलपारा जिलों से 11 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इन सभी 11 लोगों का संबंध अल कायदा और एबीटी से होने के अलावा इस्लामी कट्टरपंथ से है। पुलिस नियमानुसार आगे की कार्रवाई कर रही है। मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने राज्य में जिहादी माड्यूल पर सख्त रवैया अपनाया है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तारियों से बहुत महत्वपूर्ण जानकारी मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि कल से आज तक हमने असम के बारपेटा और मोरीगांव से दो जिहादी माड्यूल पकड़े हैं। जिहादी माड्यूल से जुड़े सभी लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Read also: Weather Update Today: दिल्ली और यूपी सहित देश के कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट,जानिए अपने जिले में मौसम का हाल

सीएम ने  कहा कि राष्ट्रीय पुलिस एजेंसियों के साथ यह समन्वित कार्रवाई एक सम्मलित प्रयास था और हमें गिरफ्तारियों से बहुत महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त हुई हैं। असम पुलिस के अनुसार मुस्तफा उर्फ ​​मुफ्ती मुस्तफा जो इस मामले में आरोपी है। मोरीगांव जिले के सहरिया गांव का रहने वाला है और अंसारुल्लाह बांग्ला टीम यानी (एबीटी) का सक्रिय सदस्य है। जो भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा से जुड़ा संगठन है। एबीटी माड्यूल का एक महत्वपूर्ण वित्तीय माध्यम है। पुलिस ने बताया कि मुस्तफा सहरिया गांव में एक मदरसा चलाता है। जिसे हिरासत में लिए लोगों का सुरक्षित ठिकाना बताया जा रहा है। संदेह होने के बाद पुलिस ने मदरसा सील कर दिया है। पुलिस के मुताबिक मदरसे की गतिविधियों को गैरकानूनी गतिविधियों की आय के माध्यम से चलाया जा रहा था।