Supertech Twin Tower: ट्विन टावर में विस्फोटक लगाने के लिए 60 लोगों टीम करेगी 10 हज़ार छेद

 
Supertech Twin Tower

नोएडा। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सेक्टर 93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड के दोनों टावर एपेक्स-सियान में विस्फोटक लगाने का काम शुरू हो जाएगा। इसके लिए पुलिस ने एनओसी जारी की है। इसके लिए डीसीपी, मुख्यालय रामबदन सिंह ने जानकारी दी है। एडिफिस इंजीनियरिंग के प्रवक्ता ने बताया कि दोनों टावर में 10 हज़ार छेदों में विस्फोटक लगाने का काम 60 लोगों की टीम करेगी। इस टीम में देश के छह ओर दक्षिण अफ्रीका के सात इंजीनिय की मदद से दस हजार लोकल छेद किए जाएंगे जो कि ब्लास्टर करेंगे। देश में यह पहली बार होगा जबकि इतनी ऊंची बिल्डिंग को गिराया जाएगा। सुपरटेक एमराल्ड के दोनों टावर की ऊंचाई करीब 101 मीटर है। दोनों टावर को तोड़ने के लिए तीन हजार सात सौ किलो विस्फोटक लगाया जाएगा। पुलिस को एडिफिस इंजीनियरिंग की तरफ से हरी झंडी का इंतजार है। इसके बाद नोएडा पुलिस पलवल के लिए जाएगी। पलवल से सुबह चार बजे विस्फोटक नोएडा लाया जाएगा। एक गाड़ी में डेटोनेटर और दूसरी में विस्फोटक लादकर लाया जाएगा। एक गाड़ी इनके आगे-आगे चलेगी। सुरक्षा के लिहाज से विस्फोटक किस रास्ते से और किस समय लाया जाएगा। इसे गोपनीय रखा है।

Read also: National Herald Case: हेराल्ड हाउस स्थित यंग इंडिया आफिस ईडी ने किया सील

एडिफिस इंजीनियरिंग के प्रतिनिधियों ने बताया कि 325 किलोग्राम सुपर पावर 90,63300 मीटर सोलर कार्ड, 10990 डेटोनेटर और 4 आईईडी का उपयोग किया जाएगा। जितना विस्फोटक नोएडा लाया जाए, उसका उपयोग शाम छह बजे तक कर लिया जाएगा। अगर विस्फोटक बचेगा तो पुलिस उसको वापस पलवल ले जाएगी। करीब 15-20 दिन तक प्रतिदिन यह काम होगा। टावर को गिराने में कुल 3700 किलोग्राम विस्फोटक लगेगा। डीसीपी, मुख्यालय रामबदन सिंह ने जानकारी दी कि ट्विन टावर को गिराने का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया था। इसके लिए एडिफिस इंजीनियरिंग की ओर से विस्फोटक के उपयोग और लाने ले जाने की एनओसी जारी कर दी है।