Voter ID Card: 18 साल की उम्र पूरी करने वालों को साल में एक बार नहीं चार बार वोट बनवाने का मिलेगा मौका

 
Voter ID Card

18 साल की उम्र पूरी करने वाले युवाओं को साल में एक बार नहीं चार बार अब वोट बनवाने का मौका मिलेगा। निर्वाचन कार्यालय की ओर से विधानसभा मतदाता सूची को लेकर अभियान शुरू किया जाएगा। दूसरी ओर, निर्वाचन विभाग ने मतदाताओं से अपील की है कि वह वोटर आईडी कार्ड को आधार से लिंक करवा लें। हालांकि यह व्यवस्था वैकल्पिक बताई जा रही है। मतदाता सूची में नए नाम जोड़ने, नाम-पते में संशोधन, मतदेय स्थलों के पुनर्निर्धारण के बारे में लोगों को प्रशासन के माध्यम से जानकारी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले के सभी पोलिंग स्टेशनों के दोबारा निर्धारण के लिए अभियान चलेगा। इसके बाद इंटिग्रेटेड मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। दिसंबर मे क्लेम और आपत्तियां दर्ज की जा सकेंगी।

Read also: मुफ्त की रेवड़ियों के मुद्दे पर Varun Gandhi ने फिर अपनी ही सरकार को घेरा

निर्वाचन कार्यालय की ओर से 19 नवंबर, 20 नवंबर, तीन दिसंबर और चार दिसंबर को वोटर बनाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। सभी आपत्तियों का निपटारा 26 दिसंबर तक किया जाएगा। इसके बाद आगामी पांच जनवरी 2023 को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया जाएगा। अभी तक 18 साल की आयु पूरी करने वाले युवाओं को केवल एक जनवरी की अर्हता तिथि के आधार पर वोटर बनने का मौका मिलेगा। लेकिन अब उन्हें एक जनवरी, एक अप्रैल, एक जुलाई और एक अक्तूबर की चार अर्हता तिथियों के आधार पर अपना वोट बनवाने का मौका दिया जाएगा।  चुनाव आयोग ने सभी मतदाताओं से अपने वोटर आईडी के साथ आधार नंबर को जुड़वाने की अपील की है। इसके लिए अलग से फॉर्म भरा जाएगा। उन्होंने कहा कि यह केवल वैकल्पिक व्यवस्था है। सभी मतदाताओं की आधार से जुड़ी जानकारी पूरी तरह से गोपनीय रखी जाएगी।