Thursday, October 21, 2021
Homeन्यूज़नेशनलक्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग, भारत में आईआईटी बॉम्बे पहले और दिल्ली दूसरे...

क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग, भारत में आईआईटी बॉम्बे पहले और दिल्ली दूसरे स्थान पर

नई दिल्ली, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। लंदन स्थित क्वाक्वेरेली साइमंड्स क्यूएस ने गुरुवार को ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग जारी की है। क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग के अनुसार भारतीय संस्थानों में आईआईटी बॉम्बे करियर केंद्रित छात्रों के लिए भारत में सबसे बेहतरीन संस्थान है। आईआईटी बॉम्बे 2020 की क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में 111.120 स्थान पर था जहां से आगे बढ़ कर यह अब 101.110 समूह में आ गया है।

क्यूएस द्वारा सर्वेक्षण किए गए 50,000 से अधिक नियोक्ताओं के अनुसार आईआईटी बॉम्बे भारत में उच्चतम कैलिबर के ग्रेजुएट युवा तैयार करते हैं। यह क्यूएस के एंप्लॉयर रेपुटेशन इंडिकेटर के लिए देश का अग्रणी स्कोर है।

आईआईटी बॉम्बे के बाद क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में आईआईटी दिल्ली का नंबर है। आईआईटी दिल्ली 2020 क्यूएस ग्रेजुएट वल्र्ड एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में 151.160 स्थान पर था। वहीं इस बार की रैंकिंग में आईआईटी दिल्ली का स्थान 131.140 के समूह में है।

यानी आईआईटी दिल्ली बढ़कर 131.140 स्थान पर हो गया है। इस कामयाबी पर आईआईटी दिल्ली के निदेशक प्रोफेसर वी रामगोपाल राव ने कहाए आईआईटी दिल्ली क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में 20 स्थानों की छलांग लगाकर खुश है। हम पिछले कुछ वर्षों में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों रैंकिंग में अपनी रैंकिंग में लगातार सुधार कर रहे हैं। हमने पिछले कुछ वर्षों में विभिन्न उपाय किए हैं, जो अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर रहे हैं।

क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में आईआईटी मद्रास भी 171.180 बैंड से बढ़कर 151.160 श्रेणी में आ गया है। ये तीनों भारतीय उच्च शिक्षण संस्थान वैश्विक रैंकिंग में शीर्ष 200 में स्थान पर हैं। बॉम्बे दिल्ली व मद्रास तीनों आईआईटी ने पिछले वर्ष की तुलना में क्यूएस ग्रेजुएट एम्प्लॉयबिलिटी रैंकिंग में अपनी स्थिति में सुधार किया है। इस साल जून में जारी की गई क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के अनुसार भी यह तीन संस्थान भारत के शीर्ष उच्च शिक्षा संस्थानों में शामिल थे।

इससे पहले इसी साल जून में क्यूएस ने वर्ष 2021 के लिए क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग जारी की थी। इस रैंकिंग में भी विश्व सूची के शीर्ष 200 विश्वविद्यालयों में भारत के आईआईएससी बेंगलुरुए आईआईटी बॉम्बे और आईआईटी दिल्ली शामिल थे।

तब क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में भारतीय विज्ञान संस्थान आईआईएससी बेंगलुरु को साइटेशन पर फैकल्टी मीट्रिक यानी शोध पेपर प्रति संकाय सदस्य के लिए 100 में से 100 अंकों के स्कोर के साथ दुनिया के शीर्ष अनुसंधान विश्वविद्यालय अर्थात टॉप रिसर्च यूनिवर्सिटी इन द वल्र्ड के रूप में सूचीबद्ध किया गया था।

–आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

लेटेस्ट न्यूज़

ट्रेंडिंग न्यूज़