Gangotri Gangajal: देश विदेश तक गंगोत्री का गंगाजल पहुंचाने के लिए कॉपरेटिव ने बनाया ये प्लान

 
Gangotri Gangajal

देहरादून। प्रादेशिक कॉपरेटिव यूनियन ने देश-विदेश तक गंगोत्री का गंगााजल पहुंचाने के लिए प्लान बनाया है। इसके लिए होनहार बच्चों को कोचिंग दी जाएगी। आईसीएम देहरादून में रामकृष्ण मेहरोत्रा की अध्यक्षता में पीसीयू ;ानी प्रादेशिक कॉपरेटिव बोर्ड की बैठक आयोजित की गई। जिसमें 14 महत्वपूर्ण बिंदुओं पर निर्णय लिए गए। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि सरकारी और गैर सरकारी आफिसों  में पीसीयू के माध्यम से स्टेशनरी क्रय की जाएगी। गंगोत्री का गंगाजल अब उत्तराखंड प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन पीसीयू के माध्यम से देश-विदेश तक पहुंचाया जाएगा। इसके अलावा इंस्टीट्यूट ऑफ कोऑपरेटिव मैनेजमेंट रिसर्च एंड ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना भी की जाएगी। जिसमें कोऑपरेटिव सर्विसेस से संबंधित पाठ्यक्रम को पढ़ाए जाएंगे।

Read also: Uttarakhand को जल्द मिलेगे 17 नए आईएएस अधिकारी, पीसीएस अफसरों ने दी संवर्ग बदलने की सहमति

अब शिक्षा निधि कोष से शिक्षा प्रशिक्षण कार्य संपादित करवाए जाएंगे। इसके साथ ही पीसीयू उत्तराखंड और पीसीयू उत्तर प्रदेश के मध्य परिसंपत्तियों एवं निधियों का विभाजन के संबंध में सहमति बनी है। इस संबंध में जल्द दोनों राज्यों के अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक होगी। इसी के साथ ही प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन की ओर से मासिक पत्रिका के आरएनआई रजिस्ट्रेशन को लेकर अध्यक्ष की ओर से औपचारिकताएं पूरी करने के निर्देश दिए। बैठक में उपाध्यक्ष शैलेंद्र सिंह बिष्ट, प्रबंध निदेशक मान सिंह सैनी, निदेशक सुभाष रामोला, शांति देवी,प्रदीप चौधरी,गोपाल सिंह बोरा,  ममता मेहरोत्रा,राजेंद्र सिंह,  सुप्रिया चौहान, सुरेंद्र सिंह, करणवीर सिंह उपस्थित रहे। प्रदेश भर में गरीब किसानों के होनहार बच्चों को भी कोचिंग दी जाएगी। इसमें इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रतियोगी परीक्षा में प्रतिभाग करने के लिए प्रदेश भर से हर साल अब 15 गरीब किसानों के बच्चों का चयन किया जाएगा। कोचिंग बच्चों को मुफ्त उपलब्ध कराई जाएगी।  शिक्षा निधि कोष माध्यम से कोचिंग का खर्च वहन किया जाएगा।