UN Peacekeeping Forces: शांति सेना की गोलीबारी में दो लोगों की मौत के बाद बवाल,महासचिव ने किया कार्रवाई का ऐलान

 
UN Peacekeeping Forces

न्यूयार्क। अफ्रीकी देश युगांडा और कांगो सीमा पर  संयुक्त राष्ट्र शांति सेना द्वारा दो लोगों की हत्या के बाद से बवाल मचा हुआ है। प्रदर्शनकारी सड़क पर उतर आए हैं और न्याय की मांग करते हुए हंगामा कर रहे हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद संयुक्त राष्ट्र  महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने घटना पर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि इस तरह की हिंसा बहुत ही शर्मनाक है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है। बताया जाता है कि आरोपियों ने छुट्टी से घर लौट रहे दो लोगों की हत्या को अंजाम दिया। यूएन उप प्रवक्ता फरहान हक ने कहा कि महासचिव घटना में हताहत हुए लोगों के लिये दुखी और हताश हैं। गुटेरेस ने प्रभावित परिवारों, देश के लोगों और कांगो सरकार के साथ गहन संवेदनाएं व्यक्त की। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी की है।

Read also: Monsoon Session Live: संसद में महंगाई को लेकर विपक्ष का हंगामा, सदन दोपहर तक के लिए स्थगित

संयुक्त राष्ट्र विशेष प्रतिनिधि और कांगो में यूएन स्थिरता मिशन मुखिया बिन्तोऊ केईटा ने बताया कि शांति सैनिकों ने, सीमा चौकी पर किस परिस्थिति में गोलियां चलाईं है अभी इसके बारे में ठोस जानकारी  नहीं है। उन्होंने कहा कि इस घटना से दुनिया में गलत संदेश गया है। बिन्तोऊ ने कहा कि हम घटना की निंदा करते हैं। जान गंवाने वाले मृतकों के परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं। घटना के बाद से शांति सैनिकों के खिलाफ गुस्सा फूट रहा है। इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। इसमें दिखाया गया है कि संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों ने एक बैरिकेड खोलने से पहले दो लोगों पर गोलियां चला दी थी। कांगो सरकार ने घटना की निंदा की है। उसने मोनुस्को के साथ जांच शुरू की है। सरकार ने बयान में कहा कि कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य दुर्भाग्यपूर्ण घटना की कड़ी निंदा करता है।