Masood Azhar News: आतंकी सरगना मौलाना मसूद अजहर की गिरफ्तारी को पाकिस्तान ने लिखा तालिबान सरकार को पत्र

 
Masood Azhar News

कराची। पाकिस्तान सरकार ने अपने पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान में सत्तारूढ तालिबान सरकार को पत्र लिखकर आतंकी सरगना मौलाना मसूद अजहर के गिरफ्तारी की मांग की है। अजहर प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का संस्थापक है तथा संयुक्त राष्ट्र का  घोषित आतंकी है। जो कि पिछले कई सालों से फरार है।  माना जा रहा है कि पाकिस्तान ने यह कदम भारत और पश्चिमी देशों के दबाव में उठाया है। बता दें, मसूद अजहर को दो अन्य आतंकियों के साथ 1999 में कंधार विमान अपहरण कांड के दौरान यात्रियों की रिहाई के बदले में भारत से रिहा किया गया था। पाक समर्थित आतंकी काठमांडू-दिल्ली फ्लाइट को अपहरण करने के बाद अफगानिस्तान के कंधार लेकर गए थे। उसके बाद से आतंकी सरगना मसूद अजहर का कुछ पता नहीं है। 

मसूद की गिरफ्तारी के लिए पत्र लिखने की जानकारी पाकिस्तानी सूत्रों ने एक रिपोर्ट में दी। जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने तालिबान सरकार से अजहर के बारे में संपर्क किया है। मसूद ने भारत द्वारा छोड़े जाने के बाद जैश-ए-मोहम्मद बना लिया था। जैश ने कश्मीर सहित भारत में कई जगहों पर आतंकी हमले किए है। जिसमें अब तक अनेक भारतीयों की जान गई। उसके बाद से भारत मसूद की गिरफ्तारी और उसके सौंपने की मांग कर रहा है।  पाकिस्तान के सूत्रों के अनुसार तालिबान विदेश मंत्रालय को लिखे पत्र में पाकिस्तान ने कहा है कि उसे जानकारी मिली है कि अजहर अफगानिस्तान में कहीं छिपा बैठा हुआ है। एक अज्ञात पाकिस्तानी अधिकारी के हवाले से यह खबर दी है। पत्र में अजहर अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत या कुनार प्रांत में छिपे होने की संभावना व्यक्त की गई है। हालांकि, रिपोर्ट में यह कहा है कि अभी पुष्टि नहीं हुई है कि अगस्त 2021 में काबुल में तालिबान के सत्ता में आने से पहले या उसके बाद अजहर अफगानिस्तान चला गया था या नहीं।