Russia Ukraine War Update: रूस ने तेज किया यूक्रेन पर हमला,अमेरिका—ब्रिटेन ने की एंटी टैंक की सप्लाई

 
Russia Ukraine War Update

कींव। रूस ने यूक्रेन पर हमला और तेज कर दिया है। इससे यूक्रेन की मदद कर रहे उसके सहयोगी देश में भी काफी बेचैनी है। अमेरिका और उसके सहयोगी देशों ने रूस द्वारा पूर्वी दोनबास में भीषण युद्ध के लिए यूक्रेन को रॉकेट प्रणालियां, गोला बारूद और सैन्य मदद की प्रतिबद्धता जताई है। मॉस्को ने युद्ध को और व्यापक स्तर पर तेज करने के संकेत दिए हैं। इससे अमेरिका ने जहां यूक्रेन को मदद की घोषणा की वहीं ब्रिटेन ने कहा कि वह यूक्रेन को 1,600 एंटी टैंक हथियारों की सप्लाई देगा। ब्रिटेन ने कहा है वह कीव को और घातक हथियार जल्द सप्लाई करने की तैयारी कर रहा है। रूस की योजना दोनबास के पूर्वी औद्योगिक क्षेत्र और अधिक यूक्रेनी क्षेत्र पर कब्जा जमाने की है। इसी को देखते हुए यूरोपीय आयोग ने ईयू सदस्यों से रूसी ऊर्जा पर निर्भरता दूर करने के लिए प्राकृतिक गैस की मांग कम करने की अपील की है। दुनिया भर में करीब 50 रक्षा नेताओं की डिजिटल बैठक होने के बाद अमेरिकी रक्षामंत्री लॉयड ऑस्टिन ने कहा कि सहयोगियों को युद्ध खत्म करने के प्रयासों की ओर प्रतिबद्ध रखने पर कड़ी मेहनत की जरूरत है। 

Read also: Rashtrapati Chunav 2022: द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने पर प्रधानमंत्री मोदी सहित ममता बनर्जी ने दी बधाई

डिजिटल बैठक में यह बताने से इनकार कर दिया कि युद्ध कब तक चल सकता है। अमेरिकी सेना के जनरल मार्क ने संकेत दिया कि यह लंबे समय तक जारी रह सकता है। मिले ने कहा कि दोनबास में भीषण युद्ध जारी चल रहा है। किसी भी पक्ष को बढ़त मिलने तक कोई रास्ता दिखाई नहीं देता।  यूरोपीय संघ ने यूक्रेन पर हमले को लेकर रूस पर और प्रतिबंध लगाए हैं। इनमें सोना आयात और उच्च तकनीक वाली वस्तु निर्यात नियंत्रण को कठोर बनाना भी शामिल है। यूरोपीय आयोग अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर ने कहा, क्रेमलिन के खिलाफ प्रतिबंध मॉस्को को संकेत भेजेंगे कि हम अधिक से अधिक समय तक अपना दबाव बनाए रहेंगे। रूस से यूरोप के लिए 10 दिनों से बंद पड़ी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन शुरू की है। पाइपलाइन को नियमित रखरखाव के चलते 10 दिनों के लिए ये बंद की गई थी। लेकिन गैस का फ्लो पूरी क्षमता से कम होने की उम्मीद है। पाइपलाइन से जर्मनी की गैस आपूर्ति का एक तिहाई हिस्से को पूर्ति की जाती है।