Sri Lanka Crisis News Live: श्रीलंका के कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे, देश में आपातकाल लागू

 
sri lanka acting president ranil wickremesinghe

कोलंबो। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे द्वारा देश छोड़कर भागने के बाद श्रीलंका के हालात काफी बिगड़ गए हैं। प्रदर्शनकारियों के उग्र प्रदर्शन को देख देश में आपातकाल लगा दिया है। वहीं श्रीलंका के कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे को बनाया गया है। 

Read also: Sri Lanka: भारत ने भेजा श्रीलंका को 15000 लीटर केरोसिन, 700 मछुआरों को मिली मदद


प्रदर्शनकारी संसद और पीएम कार्यालय तक पहुंच गए और दोनों को अपने कब्जे में ले लिया है। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए सुरक्षाकर्मी आंसू गैस के गोले दाग रहे हैं। बता दें राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे द्वारा देश छोड़ने की जानकारी के बाद आम जनता में आक्रोश और गुस्सा है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने सूचित किया कि देश में आपातकाल और पश्चिमी प्रांत में कर्फ्यू लगा दिया है।


श्रीलंका के पूर्व प्रधानमंत्री और संसद सदस्य रानिल विक्रमसिंघे को कार्यवाहक राष्ट्रपति बनाया है। श्रीलंका संविधान के मुताबिक यदि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री दोनों इस्तीफा देते हैं तो संसद का अध्यक्ष अधिकतम 30 दिनों तक कार्यवाहक राष्ट्रपति के रूप में कार्य कर सकता है। संसद अपने सदस्यों में 30 दिनों के भीतर एक नए अध्यक्ष का चुनाव करती है जो कि वर्तमान कार्यकाल के शेष दो वर्षों के लिए राष्ट्रपति बनाया जाएगा। श्रीलंका में पदस्थ राष्ट्रपति को गिरफ्तारी से छूट प्राप्त है।

Read also: Sri Lanka Crisis Live Updates: आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में पेट्रोल डीजल की किल्लत,घरों से काम करने की सलाह

माना जा रहा है कि गोतबाया राजपक्षे इस्तीफा देने से पहले इसलिए ही विदेश भागना चाहते थे। बताया जाता है कि उन्हें डर था कि अगर उन्होंने श्रीलंका में इस्तीफा दिया तो उनको गिरफ्तार कर लिया जाएगा। गोतबाया को आज अपना इस्तीफा देना था। लेकिन वो इस्तीफर देने से पहले ही देश छोड़कर फरार हो गए।