Nepal News: नेपाल ने मानी मधेसी समुदाय की मांग,शादी करने पर जल्द मिलेगी नेपाली नागरिकता

 
Nepal News:

नेपाल। नेपाल में अब शादी करने पर जल्द ही वहां की नागरिकता मिल जाएगी। शादी चाहे नेपाल की लड़की से की जाए या फिर नेपाली युवक से।  नेपाल में बने नए संविधान के बाद से नागरिकता के सवाल पर जारी विवाद अब दूर होने की संभावना है। नेपाल सरकार ने इस बारे में मधेसी समुदाय की मांग मान ली है। अब इसके तहत किसी नेपाली नागरिक से विवाह करने वाली महिला या पुरूष को तुरंत नेपाल नागरिकता हासिल करने की प्रक्रिया शुरू कर नागरिकता हासिल कर सकेगा। पहले पेश किए गए बिल में यह प्रावधान था कि ऐसी प्रक्रिया विवाह के सात साल बाद शुरू की जा सकेगी। लेकिन पिछले सप्ताह नेपाल सरकार ने वर्षों में संसद में लंबित पड़े उस बिल को वापस ले लिया।

Read also: Shiv Sena Crisis: सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना के विधायकों की अयोग्यता मामले में सुनवाई टली,गठित बेंच लेगी फैसला

प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के नेतृत्व वाली नेपाल गठबंधन सरकार ने नागरिकता विधेयक तैयार कर लिया। उसे पारित कराने के लिए संसद में पंजीकृत करवा दिया है। विवाह के बाद नागरिकता पाने को  सात साल तक इंतजार की शर्त के खिलाफ मधेसी बहुल इलाकों में विरोध भड़क उठा था। मधेसी लोगों के सीमा से लगे भारत के इलाकों से पारंपरिक रिश्ता है। दोनों तरफ के लोगों के बीच वैवाहिक संबंध बनते रहते हैं। जन्म के आधार पर नागरिकता का प्रावधान तैयार किए गए नए बिल में बच्चों को नेपाल में जन्म के आधार पर नागरिकता देने का प्रावधान किया है। इसमें कहा है कि नेपाली महिला से जन्म लेने वाले बच्चे को नेपाल की नागरिकता लेने का हक होगा। भले उसके पिता के बारे में जानकारी उपलब्ध हो या ना हो। बच्चा अगर नेपाल में रह रहा हो, तो उसे नागरिकता मिलेगी। हालांकि इसमें यह प्रावधान जोड़ दिया है कि अगर बाद में यह पता चला कि बच्चे का पिता विदेशी है,तो बच्चे की नागरिकता रद्द हो जाएगी।