Abortion Pill: अमेरिका में गर्भनिरोधक गोलियों की बढ़ी डिमांड,मां अपनी बेटियों के लिए जमा कर रही गोलियां

 
Abortion Pill

वाशिंगटन। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने देश में गर्भपात के अधिकार को खत्म कर दिया। इसके बाद हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स ने एक विधेयक को मंजूरी दी है। जिसमें गर्भनिरोधक दवाओं और अन्य साधनों के उपयोग के अधिकार का संरक्षण किया है। अमेरिका में अब चिंता है कि सुप्रीम कोर्ट गर्भ निरोधकों के उपयोग पर भी रोक लगा सकता है। इसके चलते महिलाओं द्वारा बड़े पैमाने पर खरीद कर इनको स्टॉक किया जा रहा है।  बता दें, अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट द्वारा'रो बनाम वेड' फैसले को पलटने के बाद गर्भ नियंत्रण, इमरजेंसी गर्भनिरोधक गोलियों के अलावा गर्भपात की दवाओं की खरीद में तेजी से इजाफा हुआ है। कुछ अमेरिकी क्लीनिकों के मुताबिक गर्भपात की इन्क्वायरी में चार गुना बढ़ोतरी हो गई है। गर्भनिरोधक गोलियों की मांग को लेकर एक घंटे में 100 आर्डर मिल रहे हैं। 
एक अमेरिकी महिला ने गर्भपात के गैरकानूनी होने के कारण 16 साल की बेटी के लिए गर्भनिरोधक गोलियों का स्टॉक किया है। महिला ने बताया कि उसने बेटी की अनचाही प्रेग्नेंसी की आशंका से ये गर्भनिरोधक गोलियां खरीदीं। अगर उसके 21 साल के बेटे और उसकी प्रेमिका को जरूरत पड़ी तो मैंने इमरजेंसी पिल्स का स्टॉक किया है। 

Read also: Haemophilia-B: एक वायरस से होगा हीमोफीलिया बी का इलाज, चिकित्सकों का दावा

खबर है कि उन अमेरिकी प्रांतों में गर्भपात की संख्या बढ़ गई, जहां सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गर्भपात को गैर कानूनी बनाने की कानूनी प्रक्रिया पूरी नहीं की है। अटलांटा में प्लान्ड पेरेंटहुड प्रवक्ता लॉरेन फ्रेजियर के मुताबिक उनके पास आने वाली ऐसी महिलाओं की संख्या बढ़ी है। जो जानना चाहती हैं कि वो गर्भनिरोधक कितनी गोलियां स्टॉक कर सकतीं हैं। इन संस्थाओं ने महिलाओं को चेताया है कि वे इस तरह से गर्भनिरोधक गोलियों स्टॉक नहीं करें। जरूरतमंदों के लिए बाजार में स्टॉक मौजूद रहने दें।