Gotabaya Rajapaksa: श्रीलंका को तबाह कर आज तड़के कोलंबो से भाग निकले राष्ट्रपति गोतबाया

 
Gotabaya Rajapaksa

कोलंबो। श्रीलंका को आर्थिक तबाही में झोंककर आज तड़के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे अपनी पत्नी और अंगरक्षकों के साथ कोलंबो से भाग निकले। बताया जाता है कि उन्होंने मालदीव में जाकर शरण ली है। वो मालदीव की राजधानी माले में पहुंच गए हैं। बताया जाता है कि राष्ट्रपति गोतबाया आज त्यागपत्र देने वाले थे। श्रीलंका की वायुसेना विमान से अपनी पत्नी व अंगरक्षकों संग गोतबाया मालदीव की राजधानी माले पहुंचे। इस्तीफा देने की चर्चाओं के बीच वह देश छोड़कर भाग गए हैं। श्रीलंका पीएम कार्यालय ने इसकी पुष्टि की है कि राजपक्षे देश छोड़कर भाग गए हैं।

Read also: Guru Purnima 2022: मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने गुरुपूर्णिमा से पूर्व गोरखपुर में किया 463.60 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण

भ्रष्टाचार के बीच अर्थव्यवस्था को संभालने में विफल रहने के चलते श्रीलंका में पिछले कई महीने से बवाल चल रहा है। बीते दिनों आक्रोशित जनता भी सड़कों पर उतर आई थी। हजारों की भीड़ ने राष्ट्रपति भवन पर घुसकर तोड़फोड़ मचाई थी। उसके बाद से ही राष्ट्रपति राजपक्षे लापता हैं। उन्होंने इसी बीच ऐलान किया था कि वो 13 जुलाई को अपने पद से त्यागपत्र भी दे देंगे। श्रीलंका वायुसेना के मीडिया निदेशक ने सुबह बयान जारी कर कहा कि राष्ट्रपति राजपक्षे, प्रथम महिला उनकी पत्नी और दो अंगरक्षक को मालदीव ले जाया गया। उनके विमान को उड़ान भरने के लिए आव्रजन के अलावा सीमा शुल्क और रक्षा मंत्रालय की ओर से  मंजूरी दे दी गई थी। उनको आज 13 जुलाई की सुबह वायु सेना का विमान उपलब्ध कराया गया। जिसमें बैठकर वो मालदीप की राजधानी माले पहुंचे।  
सूत्रों के मुताबिक 73 साल के राजपक्षे की माले के वेलैना एयरपोर्ट पर मालदीव सरकार प्रतिनिधियों ने अगवानी की। स्थानीय समयानुसार आज सुबह वो करीब 3 बजे माले पहुंचे। सूत्रों से खबर मिली है कि उनके भाई व पूर्व वित्तमंत्री बासिल राजपक्षे ने श्रीलंका को छोड़ दिया। 71 साल के बासिल श्रीलंका की आर्थिक बदहाली के बड़े जिम्मेदार हैं। बासिल के संभवत: अमेरिका जाने की सूचना है। उनके पास अमेरिकी पासपोर्ट भी है। फिलहाल उनके जाने के बारे में अभी पूरी तरह से जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है।