Super Typhoon Hinnamnor: 270 किमी की रफ्तार से बढ़ रहा चक्रवाती तूफान हिनामनोर जापान के लिए बना खतरा

 
Super Typhoon Hinnamnor:

टोक्यो। जापान को इस साल का खतरनाक चक्रवाती तूफान जल्दी ही अपनी चपेट में ले सकता है। पश्चिम प्रशांत महासागर से उठे इस चक्रवाती तूफान की रफ्तार 270 किलोमीटर प्रति घंटे है। बताया जाता है कि इसकी रफ्तार और भी बढ़ सकती है। चक्रवाती तूफान हिनामनोर को साल का सबसे शक्तिशाली तूफान बताया जा रहा है। चक्रवाती तूफान हिनामनोर के बारे में जापानी मौसम विज्ञानियों ने कहा है कि चक्रवाती तूफान के पास 198-270 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार है। ये तूफान अभी चीन के पूर्वी तट, जापान के दक्षिणी तट और फिलिपींस के के लिए खतरा बना हुआ है। 

मौसम विभाग के मुताबिकक यूएस ज्वाइंट टाइफून वार्निंग सेंटर द्वारा इस तूफान के बारे में जानकारी दी गई है कि  चक्रवात तूफान अभी 160 मील या 257 किलोमीटर प्रति घंटा  से आगे बढ़ रहा है। जिसके 195 मील प्रति घंटा तक बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। इतना ही नहीं चक्रावाती तूफान इतना भयानक है कि इसके कारण 50 फीट ऊंची लहरे समुद्र में उठ सकती हैं। मौसम विज्ञानियों ने इसे सुपर टाउफून का नाम भी दिया है। जापान मौसम विज्ञान एजेंसी के अनुसार हिनामनोर सुबह 11 बजे तक 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ओकिनावा में मिनामी दातोजिमा द्वीप के ऊपर से पश्चिम-दक्षिण, पश्चिम की ओर बढ़ा है। इस हफ्ते के आखिर तक इसके मुख्य द्वीप तक पहुंचने की संभावना है। हालांकि अमेरिकी ऑब्ज़र्वेटरी ने उम्मीद जताई है कि आने वाले कुछ दिनों में चक्रवाती तूफान की स्पीड कम हो सकती है। जिसके बाद यह चीन और जापान की मुड़ सकता है। 

हिनामनोर के कारण जापान के हिस्सों होकुरिकु,टोकई  और तोहोकू में बारिश हो रही है। इसके साथ अधिकारी भूस्खलन, निचले इलाकों में बाढ़ और नदियों के उफनाने की चेतावनी दी हैं। गौरतलब है कि इससे पहले साल 2019 में जापान को 70 साल के भीषण तूफान हेजिबीस ने पूरी तरह से तबाह कर दिया था। उसके बाद जापान में हेजिबीस के कारण सैकड़ों लोगों की मौत हुई थी। उस तूफान में जापान को सबसे ज्यादा नुकसान बारिश के कारण हुआ था।