Al Zawahiri Killed: हवाई हमले में अलकायदा प्रमुख अल जवाहिरी की मौत, बाइडन बोले अब इंसाफ हुआ

 
Al Zawahiri Killed

न्यूयार्क। अमेरिका द्वारा किए गए हवाई हमले में अल कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी मारा गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने आज सोमवार को इसकी पुष्टि की है। राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि शनिवार को उनके निर्देश पर संयुक्त राज्य अमेरिका ने अफगानिस्तान के काबुल में हवाई हमला किया। इस हवाई हमले में अल कायदा अमीर अयमान अल-जवाहिरी को मार गिराया गया। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अब न्याय हुआ है इसमें कितना भी समय लगे वो चाहे कहीं भी छिप जाएं। अगर वो हमारे लोगों के लिए खतरा हैं, तो अमेरिका उनको ढूंढेगा और बाहर निकालेगा। बाइडन ने कहा कि अल जवाहरी 9/11 में हुए आतंकी हमलों के समय ओसामा बिन लादेन का नंबर दो आदमी और उसका डिप्टी था। वह 9/11 की योजना में शामिल था। जब उन्होंने लगभग एक साल पहले अफगानिस्तान में अपने सैन्य मिशन को समाप्त कर दिया तो फैसला किया गया कि 20 साल के युद्ध के बाद अब अमेरिका को अफगानिस्तान में जमीन पर हजारों सैनिकों की जरूरत नहीं है।

Read also: Myanmar Emergency: म्यांमार में छह महीने के लिए बढ़ाया गया आपतकाल,नहीं गठित होगी अभी सरकार

बाइडन ने कहा कि उन्होंने अमेरिकी लोगों से वादा किया था कि हम अफगानिस्तान और उसके बाहर प्रभावी आतंकवाद विरोधी अभियान जारी रखेंगे। हमने यही किया है। अमेरिका ने अफगानिस्तान में जवाहिरी पर ड्रोन से हमला कर उसको मार गिराया। इसके बाद से तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने हमले की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि 31 जुलाई को काबुल के शेरपुर इलाके में रिहायशी मकान पर हवाई हमला हुआ था। उन्होंने कहा कि पहले घटना की प्रकृति स्पष्ट नहीं थी। लेकिन इस्लामिक अमीरात की सुरक्षा और खुफिया एजेंसी ने घटना की जांच की और बताया कि हमला अमेरिकी ड्रोन द्वारा किया गया था। मुजाहिद ने कहा कि अफगानिस्तान के इस्लामी अमीरात अमेरिका के इस कृत्य की निंदा करता है। किसी भी बहाने से इस हमले को नहीं किया जाना चाहिए था। यह हमला अंतरराष्ट्रीय सिद्धांतों और दोहा समझौते का स्पष्ट उल्लंघन हैं। अमेरिकी विदेश विभाग ने जवाहिरी को पकड़ने वाली सूचना के लिए 2.5 करोड़ अमेरिकी डालर के इनाम की घोषण की थी।