Pak Economic Crisis: आर्थिक संकट में फँसते पाकिस्तान से झाड़ा सबने पल्ला, दिनों दिन गहरा रहा आर्थिक संकट

 
Pak Economic Crisis: आर्थिक संकट में फँसते पाकिस्तान से झाड़ा सबने पल्ला, दिनों दिन गहरा रहा आर्थिक संकट

पाकिस्तान दिनों दिन आर्थिक संकट की ओर जाता हुआ दिखाई दे रहा है, वहीं अब पाकिस्तान के दोस्त माने जाने वाले देशों ने भी उससे पल्ला झाड़ लिया है। बता दें कि पाकिस्तान ने सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और चीन से आर्थिक मदद माँगी थी, लेकिन इन देशों ने उसे बुरी तरह टरका दिया है। जानकारी के अनुसार पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार तेजी से घटता जा रहा है, वहीं इसी दौरान वह बड़े विदेशी कर्ज और बोझ से दबी अर्थव्यवस्था से भी परेशान है।

वहीं इन दिनों भारी महँगाई के कारण पाकिस्तान का हाल और भी बुरा हो गया है, इसके साथ ही पाकिस्तान को कर्ज देने में चीन, यूएई, सऊदी अरब ने साफ असमर्थता जता दी है। वहीं इसके बाबत जानकारी देते हुये पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल ने कहा कि पाकिस्तान को कर्ज देने में उसके सहयोगी देश सतर्कता बरत रहें हैं, जहाँ वह देश के लिये मदद की गुहार लेकर सऊदी अरब और यूएई खुद गये थे, इस दौरान इसके बाबत उनकी इन देशों से व्यापक चर्चा हुई लेकिन वह तैयार नहीं हुये।

वहीं इन देशों ने पाकिस्तान को सलाह देते हुये कहा है कि वह अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) से मदद ले, जिसके बाद ही वह पाकिस्तान को कर्ज देने में विचार करेंगे। इसके साथ ही चीन के एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक ने भी पाकिस्तान को कर्ज देने में साफ असमर्थता जता दी है, जहाँ उन्होंने कहा कि यदि वैश्विक संस्थाएं पाकिस्तान की मदद करेंगी तो वह भी पाकिस्तान की मदद कर सकते हैं।