शोध: विश्व में 16 करोड़ महिलाएं नहीं करती गर्भनिरोधक का उपयोग

 
reports

वाशिंगटन। दुनिया में गर्भ निरोधक के उपयोग, जरूरत और उसके तरीके की उपलब्धता पर वाशिंगठन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इस पर अध्ययन किया। जिसमें अध्ययन के द्वारा 1,162 सर्वे आंकड़ों का उपयोग किया गया। जिसमें 1970 से 2019 तक दुनिया के विभिन्न देशों में आयु समूह, वैवाहिक स्थिति के आधार पर गर्भनिरोधक उपयोग करने वाली महिलाओं के आंकड़े जुटाए गए। अनचाहा गर्भधारण रोकने के बावजूद दुनिया में करीब 16 करोड़ महिलाओं और किशोरियों ने 2019 में गर्भनिरोधकों का उपयोग नहीं किया। यह शोध विज्ञान पत्रिका में छापा गया है।

Read also: Fake Notes: तीस हजार रुपये देने के बदले मिलते थे एक लाख के नकली नोट,ऐसे हुआ खुलासा

शोध के अनुसार, वैसे तो विश्च में आधुनिक गर्भनिरोधकों का उपयोग करने वाली प्रजनन आयु वर्ग की महिलाओं की तादाद 1970 में जो कि 28 प्रतिशत थी वो अब 2019 में बढ़कर 48 प्रतिशत तक पहुंच गई है। इसी प्रकार से 1970 में 55 प्रतिशत मांग पूरी हो रही थी तो 2019 में यह 79 प्रतिशत हो गया। इस बढ़ोतरी के बाव तीन साल पहले 16.3 करोड़ महिलाएं ऐसी रहीं। जिन्होंने जरूरत के बावजूद गर्भ निरोधक नहीं अपनाए। वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अध्ययन के लिए विश्व भर में गर्भनिरोधक के प्रयोग, जरूरत, तरीके और उपलब्धता पर इसको एक अनुमान बताया है। अध्ययन में 1,162 सर्वे के आंकड़ों का उपयोग किया गया। गर्भ निरोधकों तक पहुंच का संबंध महिलाओं के सशक्तिकरण, सामाजिक-आर्थिक और बेहतर स्वास्थ्य नतीजों से जुड़ा है। अनचाहा गर्भधारण रोक मातृत्व और शिशु मृत्यु दर में कमी लाना इस अध्ययन का मकसद था।