Thursday, October 28, 2021
Homeन्यूज़इंटरनेशनलचीन ने मानवाधिकार परिषद में मानवाधिकार अवधारणाओं और उपलब्धियों की व्याख्या की

चीन ने मानवाधिकार परिषद में मानवाधिकार अवधारणाओं और उपलब्धियों की व्याख्या की

बीजिंग, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय में स्थित चीन के स्थायी प्रतिनिधि छन श्यू ने 22 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 48वें सत्र में चीन की मानवाधिकार अवधारणाओं और उपलब्धियों की व्यापक रूप से व्याख्या की।

छन श्यू ने कहा कि इस वर्ष चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की 100वीं वर्षगांठ है। यह मानव अधिकारों के लिए लड़ने, मानवाधिकारों का सम्मान करने, मानवाधिकारों की गारंटी करने और मानवाधिकारों के विकास की भी 100वीं वर्षगांठ है। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी जनता प्रथम, मानवाधिकारों के सार्वभौमिक सिद्धांत को चीन की वास्तविकता से जोड़ने, जनता के सुखी जीवन को सबसे बड़ा मानवाधिकार बनाने, लोगों के सर्वांगीण विकास को बढ़ाने पर कायम रहती है।

चीन ने सफलतापूर्वक चीनी विशेषता वाले समाजवादी मानवाधिकार विकास का रास्ता प्रशस्त किया, समृद्ध समाज का चतुर्मुखी निर्माण किया, ऐतिहासिक रूप से पूर्ण गरीबी की समस्या को हल किया है, और विश्व ध्यानाकर्षक मानवाधिकार उपलब्धियां हासिल की हैं।

छन श्यू ने कहा कि चीनी सरकार ने हाल ही में राष्ट्रीय मानवाधिकार कार्य योजना (2021-2025) जारी की, जिससे चीनी जनता के विभिन्न मानवाधिकारों को और उच्च स्तर की गारंटी मिलेगी। चीन अपने अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दायित्वों को भी पूरा करेगा, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार सहयोग में गहराई से भाग लेगा, और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारों के विकास के लिए चीनी बुद्धिमानी और चीनी समाधानों का योगदान देगा।

चीन विभिन्न पक्षों के साथ शांति, विकास, निष्पक्षता, न्याय, लोकतंत्र और स्वतंत्रता समेत सभी मानव जाति के सामान्य मूल्यों को बनाए रखने, संयुक्त रूप से मानवाधिकारों को बढ़ावा देने और उनकी रक्षा करने और मानव साझे भाग्य के समुदाय का निर्माण करने को तैयार है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

एएनएम

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

लेटेस्ट न्यूज़

ट्रेंडिंग न्यूज़