भारतवंशी सुनक बनेंगे ब्रिटेन के PM, कंजर्वेटिव पार्टी के नेता चुने गए

इंटरनेशनलभारतवंशी सुनक बनेंगे ब्रिटेन के PM, कंजर्वेटिव पार्टी के नेता चुने गए

Date:

ब्रिटेन में भारतीय मूल के ऋषि सुनक को बहुमत के साथ सत्ताधारी कंजर्वेटिव पार्टी का लीडर चुन लिया गया है जिसका मतलब यह हुआ कि वह ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री बनेगे. ब्रिटेन के इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब भारतीय मूल का कोई नागरिक वहां का प्रधानमंत्री बनेगा. सुनक को इससे पहले लिज ट्रस के हाथों हार का सामना करना पड़ा था, लिज़ ट्रस बोरिस जॉनसन के इस्तीफे के बाद पार्टी की नेता चुनी गयी थी और प्रधानमंत्री बनी थी लेकिन उन्हें सिर्फ 45 दिनों बाद ही इस्तीफ़ा देना पड़ा था. कंजरवेटिव संसदीय पार्टी समिति के चेयरमैन सर ग्राहम ब्रैडी ने सुनक के नेता चुने जाने की घोषणा की.

लिज़ के इस्तीफे के बाद एक बार फिर ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री की तलाश शुरू हुई. बोरिस जॉनसन ने दोबारा दावेदारी पेश करने से इंकार कर दिया, ऐसे में ऋषि सुनक का रास्ता आसान हो गया. सुनक के सामने ब्रिटिश सांसद पेनी मोर्डौंट थीं मगर सांसदों का उन्हें समर्थन नहीं मिल सका. मीडिया रिपोर्ट को अगर मानें तो उन्हें सिर्फ 26 सांसदों ने समर्थन दिया जबकि वह 100 सांसदों के समर्थन का दावा कर रही थीं. सुनक को भारतीय मूल के सभी ब्रिटिश सांसदों ने समर्थन दिया. यहाँ तक कि बोरिस जॉनसन की वफादार रहीं प्रीति पटेल ने भी उन्हें अपना समर्थन दिया.प्रीति पटेल बोरिस जॉनसन सरकार में गृह सचिव थीं.

बता दें कि ऋषि सुनक के दादा पंजाब के रहने वाले थे, वह भारत छोड़ ब्रिटेन जाकर बस गए थे. सुनक जब ट्रस के खिलाफ चुनाव लड़े थे तब उन्हें ट्रस के 57.4 प्रतिशत के मुकाबले 42.6 प्रतिशत मत मिले थे. तब मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि बोरिस जॉनसन ने सुनक पर चुनाव से हटने का दबाव बनाया था. मीडिया से मिल रही जानकारी के अनुसार ऋषि सुनक 28 अक्टूबर को शपथ ले सकते हैं.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

Chinese spy balloon: अमेरिका के आसमान में चाइनीज गुब्बारे ने भरी उड़ान, Alert मोड पर वायु सेना

न्यूयार्क। अमेरिका के आसमान में चाइनीज जासूसी गुब्बारा दिखाई...

Border-Gavaskar Trophy: उधड़ी पिचों पर बल्लेबाज़ी का अभ्यास कर रहे हैं कंगारू

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत...

Vishwanath Mandir Guptkashi: उत्तराखंड में भी है विश्वनाथ मंदिर जहां विलुप्त हो गए थे भगवान शिव

रुद्रप्रयाग- आपने काशी के विश्वनाथ मंदिर के बारे में...

Union Budget 2023-24: निर्मला सीतारमण द्वारा की गई घोषणाएं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को अपना पांचवां...