गृह मंत्रियों के Chintan Shivir में बोले पीएम मोदी,’एक—दूसरे से प्रेरणा लेकर करें बेहतरी के लिए काम’

नेशनलगृह मंत्रियों के Chintan Shivir में बोले पीएम मोदी,'एक—दूसरे से प्रेरणा लेकर...

Date:

फरीदाबाद। ​जिले के सूरजकुंड में चल रहे राज्यों के गृह मंत्रियों के चिंतन शिविर के आज अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी वर्चुअली जुड़े। उन्होंने कार्यक्रम से जुड़े लोगों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि गृह मंत्रियों का चिंतन शिविर सहकारी संघवाद का एक बेहतर उदाहरण है। हर एक राज्य एक दूसरे से सीखे और एक दूसरे से प्रेरणा लेकर देश की बेहतरी के लिए काम करे। ये संविधान की भावना है और देशवासियों के प्रति हमारा दायित्व है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आने वाले 25 साल देश में एक अमृत पीढ़ी के निर्माण के हैं। ये अमृत पीढ़ी, पंच प्राणों के संकल्पों को धारण करके निर्मित होगी। विकसित भारत का निर्माण, विरासत पर गर्व,गुलामी की हर सोच से मुक्ति, एकता-एकजुटता और नागरिक कर्तव्य। इन पंच प्राणों का महत्व सभी जानते हैं।

उन्होंने कहा कि जब देश का सामर्थ्य बढ़ेगा तो देश के हर नागरिक, हर परिवार का सामर्थ्य बढ़ेगा। यही सुशासन है। जिसका लाभ देश के हर राज्य को समाज के आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुंचाना है। इसमें आप सभी की बड़ी भूमिका है। पीएम मोदी ने कहा कि आज NDRF के लिए देशवासियों के मन में कितना सम्मान है। आपदा के समय जैसे ही NDRF-SDRF टीम पहुंचती है, वैसे ही लोगों को संतोष होता है कि अब एक्सपर्ट पहुंच गए हैं। अब ये अपना काम कर लेंगे।

गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हो रहे दो दिवसीय चिंतन शिविर में अलग-अलग प्रदेशों के मुख्यमंत्री, गृह मंत्रियों के साथ-साथ उपराज्यपाल और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासक शामिल हुए हैं। आज गुरुवार को कार्यक्रम में पहुंचे उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था को मजबूत करने के लिए पुलिस बल भर्ती, प्रशिक्षण और आधुनिकीकरण, बुनियादी ढांचे में सुधार और चुनौतियों के मद्देनजर गृह मंत्रालय के साथ समन्वय बनाकर कार्य किया गया है। जिससे उत्तर प्रदेश राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज वैश्विक स्तर पर भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। लेकिन उसी तेजी से भारत की चुनौतियां बढ़ने वाली हैं। विश्व बहुत सारी ताकतें नहीं चाहेंगी कि उनके देश के संदर्भ में भारत सामर्थ्यवान हो। देश के विरोध में कई ताकतें खड़ी होगीं। उन्होंने कहा कि बीते वर्षों में भारत सरकार के स्तर पर कानून व्यवस्था में सुधार हुए हैं। जिनसे पूरे देश में शांति का वातावरण बनाने का काम किया।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

Tragic incident: छत्तीसगढ़ में धंसी खदान, सात लोगों की मौत

छत्तीसगढ़ में एक खदान में खुदाई के दौरान हुए...

रसोई Bytes: झटपट बनाएं क्रिस्पी करेले चिप्स, जान ले रेसिपी !

लाइफस्टाइल डेस्क। Crispy Kerala Chips - करेले एक ऐसी...

IND vs BNG: एकदिवसीय श्रंखला से पंत हुए आउट

टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत के दिन...