Site icon Buziness Bytes Hindi

जनादेश का अपहरण करते हैं मोदी, प्रियंका गाँधी

priyanka

पिछले तीन दिनों से रायबरेली और अमेठी में चुनाव प्रचार के बाद आज प्रियंका गाँधी अपनी नेशनल चुनाव प्रचार की ड्यूटी पर निकलीं। आज उन्होंने महाराष्ट्र और तेलंगाना में चुनावी रैलियों को सम्बोधित किया, इन रैलियों में प्रियंका गाँधी के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रहे. तेलंगाना में उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी आपके बीच आकर झूठ बोलते हैं। वे कहते हैं- कांग्रेस पार्टी धर्म विरोधी है। आपकी संपत्ति छीन लेगी। ये बिल्कुल झूठ है। PM मोदी और इनके मंत्रियों की इतनी हिम्मत नहीं है कि अपने काम पर वोट मांग लें। वहीँ महाराष्ट्र में उन्होंने महाराष्ट्र प्रियंका गाँधी ने भाजपा पर जनादेश छीनने का आरोप लगाया, प्रियंका ने कहा कि आप लोग वोट देकर सरकार चुनते हैं, महाराष्ट्र में आपने अपनी सरकार बनाई। लेकिन मोदी जी ने जनादेश का आदर नहीं किया। उन्होंने पैसे और ताकत के बल पर आपकी सरकार गिराई और अपनी सरकार बना ली।

प्रियंका ने तेलंगाना में कहा कि BJP के नेता कहते हैं कि देखिए मोदी जी का विजन- 2047 का सोच रहे हैं।लेकिन मैं कहती हूं कि आप सिर्फ कल और आज का सोच लेते कि जनता किस तरह कमा रही है और कितना संघर्ष कर रही है। प्रियंका ने तेलंगाना के लोगों से कहा कि आपने मोदी सरकार से AIIMS मांगा- नहीं मिला, नवोदय विद्यालय मांगा- नहीं मिला, फंड में अपना हिस्सा मांगा- नहीं मिला, बाढ़ राहत के लिए मुआवजा मांगा- नहीं मिला, काजीपेट कोर्ट फैक्ट्री मांगी- नहीं मिली, ट्राइबल यूनिवर्सिटी मांगी- नहीं मिली।

प्रियंका ने तेलंगाना की धरती से अपने परिवार अपने पुराने रिश्ते की बात करते हुए कहा कि आपने इंदिरा गांधी जी को सम्मान, श्रद्धा और प्रेम दिया। उन्होंने भी आपको उतना ही प्रेम दिया। आप सब मेरी मां को ‘सोनिया अम्मा’ बोलते हैं। आप सभी ने उन्हें अपनी मां का दर्जा दिया। मैं आपके इस सम्मान की आभारी हूं, इस तरह से हम सभी भाई-बहन हैं।

महाराष्ट्र में बोलते हुए प्रियंका गाँधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी मंच पर आकर रोने लगते हैं, कहते हैं- मुझे गाली दी। उन्होंने कहा कि मोदी जी, हिम्मत करिए। ये सार्वजनिक जीवन है। इंदिरा गांधी जी से कुछ सीखिए, जिन्होंने पाकिस्तान के दो टुकड़े कर दिए। इंदिरा जी से सीखिए, हिम्मत, दृढ़ता और वीरता क्या होती है। प्रियंका ने कहा कि नरेंद्र मोदी आप लोगों के बीच आकर कहते हैं- ‘मैं शबरी का पुजारी हूं।’ कहां भगवान श्री राम, जिन्होंने शबरी को सम्मान दिया और कहां नरेंद्र मोदी, जिन्होंने सैकड़ों शबरियों का अपमान देखकर मुंह फेर लिया। जब हाथरस की एक बेटी के साथ अन्याय हुआ, उन्नाव की बहन के साथ अत्याचार हुआ, जब महिला पहलवान न्याय की गुहार लगा रही थीं. तब PM मोदी के मुंह से एक शब्द नहीं निकला। यहां तक कि मोदी जी ने उन अपराधियों को संरक्षण दे दिया।

Exit mobile version