depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

एमजी मोटर और टाटा पावर ने कोलकाता में पहला 60 किलोवाट का ईवी चार्जिंग स्‍टेशन इंस्‍टॉल किया

प्रेस रिलीज़एमजी मोटर और टाटा पावर ने कोलकाता में पहला 60 किलोवाट का...

Date:


एमजी मोटर और टाटा पावर ने कोलकाता में पहला 60 किलोवाट का ईवी चार्जिंग स्‍टेशन इंस्‍टॉल किया

कोलकाता, 25 दिसंबर, 2021: भारत में ईवी को अपनाये जाने को प्रोत्‍साहित करने के लिये अपनी प्रतिबद्धता के अनुरूप, एमजी मोटर इंडिया और टाटा पावर ने आज पश्चिम बंगाल के कोलकाता में 60 किलोवाट (केडब्‍ल्‍यू) का एक सुपरफास्‍ट पब्लिक ईवी चार्जिंग स्‍टेशन इंस्‍टॉल किया है। इसका उद्घाटन समारोह एमजी डीलरशिप पर हुआ, जिसमें श्री चपल बैनर्जी, भूतपूर्व नोडल ऑफीसर- परिवहन विभाग, पश्चिम बंगाल सरकार मुख्‍य अतिथि के तौर पर उपस्थित थे।

यह‍ डिप्‍लॉयमेंट 25 केडब्‍ल्‍यू, 30 केडब्‍ल्‍यू, 50 केडब्‍ल्‍यू और 60 केडब्‍ल्‍यू के डीसी सुपरफास्‍ट चार्जिंग स्‍टेशंस के साथ देश में चार्जिंग के पारितंत्र को बेहतर बनाने के एमजी मोटर के मिशन पर जोर देता है। इस कारमेकर ने अब तक भारत के 41 शहरों में 44 सुपरफास्‍ट चार्जिंग स्‍टेशंस इंस्‍टॉल किये हैं, जो किसी भी ऑटो ओईएम की तुलना में सबसे ज्‍यादा हैं।

कोलकाता का चार्जिंग स्‍टेशन सभी सीसीएस फास्‍ट–चार्जिंग स्‍टैण्‍डर्ड व्‍हीकल्‍स के साथ कॉम्‍पैटिबल है और लोगों को चार्जिंग का परेशानी से मुक्‍त अनुभव देगा। भारत की पहली प्‍योर इलेक्ट्रिक इंटरनेट एसयूवी एमजी जेडएस ईवी को इस सुपरफास्‍ट चार्जिंग स्‍टेशन पर 35 मिनट में 0 से 80% तक चार्ज किया जा सकता है।

एमजी मोटर और टाटा पावर ने कोलकाता में पहला 60 किलोवाट का ईवी चार्जिंग स्‍टेशन इंस्‍टॉल किया

अपने सीएएसई (कनेक्‍टेड, ऑटोनॉमस, शेयर्ड और इलेक्ट्रिक) इकोसिस्‍टम को बनाते हुए, एमजी मोटर ने कोलकाता तक अपने चार्जिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर का विस्‍तार किया है। कोलकाता भारत का दूसरा सबसे बड़ा शहर है और इसे ‘सिटी ऑफ  ज्‍वॉय’ के नाम से भी जाना जाता है। यह देश की सांस्‍कृतिक, कलात्‍मक और बुद्धिजीवी राजधानी है।

टाटा पावर ईवी की चार्जिंग का एक व्‍यापक बुनियादी ढांचा विकसित करने पर केन्द्रित है। टाटा पावर ने ईजेड चार्ज ब्राण्‍ड और एक डिजिटल प्‍लेटफॉर्म के तहत 180 शहरों में 1000 से ज्‍यादा ईवी चार्जिंग पॉइंट्स के साथ ईवी की चार्जिंग का एक व्‍यापक बुनियादी ढांचा स्‍थापित किया है। यह ग्राहक के अनुभव को आसान और सुगम बनाने के लिये है। सार्वजनिक ईवी चार्जिंग स्‍टेशंस का यह नेटवर्क कार्यालयों, मॉल्‍स, होटलों, रिटेल दुकानों और सार्वजनिक स्‍थानों में टाटा पावर के ग्राहकों को ईवी की चार्जिंग के अभिनव और परेशानीरहित अनुभव प्रदान करता है। यह स्‍वच्‍छ परिवहन को बढ़ावा देता है और रेंज की चिंता से आजादी भी। टाटा पावर ने ईवी चार्जिंग के ग्राहकों के लिए एक मजबूत सॉफ्‍टवेयर प्‍लेटफॉर्म भी विकसित किया है और इसने अपने ग्राहकों को चार्जिंग का सरल एवं आसान अनुभव देने के लिए एक मोबाइल-बेस्‍ड ऐप्‍लीकेशन (टाटापावर ईज़ेड चार्ज) भी जारी की है। यह ऐप अपने आप में अनोखा है जोकि ईवी चार्जिंग स्‍टेशनों का पता लगाने, इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने और ऑनलाइन बिल भुगतान करने में मदद करता है।

एमजी मोटर इंडिया के विषय में

साल 1924 में यूके में संस्‍थापित मोरिस गैराजेस के वाहन स्‍पोर्ट्स कार्स, रोडस्‍टर्स और कैब्रियोलेट सीरीज के लिये विश्‍व-प्रसिद्ध थे। अपनी स्‍टाइलिंग, सुंदरता और उत्‍साही प्रदर्शन के कारण एमजी के वाहन कई सेलीब्रिटीज की पसंद थे, जैसे ब्रिटिश प्रधानमंत्री और ब्रिटिश राज परिवार भी। यूके के एबिंगडन में साल 1930 में स्‍थापित एमजी कार क्‍लब के हजारों वफादार प्रशंसक हैं, जो इसे कार के एक ब्राण्‍ड के लिये विश्‍व के सबसे बड़े क्‍लबों में से एक बनाते हैं। विगत 96 वर्षों में एमजी एक आधुनिक, भविष्‍यगामी और अभिनव ब्राण्‍ड के तौर पर विकसित हुआ है। हलोल, गुजरात में स्थित उसकी अत्‍याधुनिक विनिर्माण सुविधा 80,000 वाहनों के वार्षिक उत्‍पादन की क्षमता रखती है और वहाँ लगभग 2500 लोग काम करते हैं। सीएएसई (कनेक्‍टेड, ऑटोनॉमस, शेयर्ड और इलेक्ट्रिक) परिवहन के अपने सपने के आधार पर यह तेजतर्रार कारमेकर आज ऑटोमोबाइल सेगमेंट में विभिन्‍न ‘अनुभवों’ को शामिल कर चुका है। इसने भारत में कई ‘पहलों’ की पेशकश की है, जैसे भारत की पहली इंटरनेट एसयूवी- एमजी हेक्‍टर, भारत की पहली प्‍योर इलेक्ट्रिक इंटरनेट एसयूवी- एमजी जेडएस ईवी और भारत की पहली ऑटोनॉमस (लेवल 1) प्रीमियम एसयूवी- एमजी ग्‍लॉस्‍टर और पर्सनल एआइ असिस्‍टेंट एवं ऑटोनॉमस (लेवल2) टेक्‍नोलॉजी के साथ भारतीय की पहली एसयूवी – एमजी एस्‍टर।

टाटा पावर के विषय में:

टाटा पावर (NSE: TATAPOWER; BSE:500400) भारत की सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनियों में से एक है और अपनी अनुषंगी तथा संयुक्‍त रूप से नियंत्रित कंपनियों के साथ उसकी कुल इंस्‍टॉल/प्रबंधित क्षमता 13068 मेगावाट है। यह कंपनी बिजली की पूरी महत्‍व श्रृंखला में मौजूदा है- हाइड्रो और थर्मल एनर्जी समेत रिन्‍यूएबल एवं पांरपरिक बिजली बनाने, संवहन और वितरण, कोयला और फ्रेट, लॉजिस्टिक्‍स और व्‍यापार, में इसकी संलग्‍नता है।

कंपनी ने मूंदड़ा (गुजरात) में देश का पहला अल्‍ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्‍ट विकसित किया है, जो सुपर-क्रिटिकल टेक्‍नोलॉजी पर आधारित है। सोलर, विंड, हाइड्रो और वेस्‍ट हीट रिकवरी से पैदा होने वाली स्‍वच्‍छ ऊर्जा 4.2 जीडब्‍ल्‍यू है, जो कंपनी के कुल पोर्टफोलियो का 32% है और जिसके साथ कंपनी स्‍वच्‍छ ऊर्जा बनाने में अग्रणी है।

भारत में उत्‍पत्ति, संवहन और वितरण के लिये कंपनी ने सफल सार्वजनिक-निजी भागीदारियाँ की हैं, जैसे भूटान में दिल्‍ली के लिये ताला हाइड्रो प्‍लांट से बिजली लाने के लिये पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के साथ पावरलिंक्‍स ट्रांसमिशन लिमिटेड और झारखण्‍ड में 1050 मेगावाट के मेगा पावर प्रोजेक्‍ट के लिये दामोदर वैली कॉर्पोरेशन के साथ मैथन पावर लिमिटेड।

टाटा पावर अभी अपनी वितरण कंपनियों के माध्‍यम से 12 मिलियन से ज्‍यादा उपभोक्‍ताओं को सेवा दे रहा है। यह कंपनियाँ सार्वजनिक-निजी भागीदारी के मॉडल के अंतर्गत हैं, जैसे उत्‍तरी दिल्‍ली में दिल्‍ली सरकार के साथ टाटा पावर दिल्‍ली डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड, ओडिशा सरकार के साथ टीपी नॉर्थर्न ओडिशा डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड, टीपी सेंट्रल ओडिशा डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड, टीपी वेस्‍टर्न ओडिशा डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड और टीपी सादर्न ओडिशा डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड।

स्‍थायी और स्‍वच्‍छ ऊर्जा के विकास पर केन्द्रित होकर टाटा पावर रूफटॉप सोलर और माइक्रो ग्रिड्स, स्‍टोरेज सॉल्‍यूशंस, ईवी चार्जिंग के बुनियादी ढांचे, ईएससीओ, होम ऑटोमेशन और स्‍मार्ट मीटर्स के माध्‍यम से वितरित उत्‍पत्ति में व्‍यवसाय की नई वृद्धि की ओर नजर जमाते हुए एकीकृत समाधान प्रदाता के रूप में बदलाव का नेतृत्‍व कर रहा है।

टेक्‍नोलॉजी में उन्‍नति, परियोजना के निष्‍पादन में उत्‍कृष्‍टता, विश्‍व-स्‍तरीय सुरक्षा प्रक्रियाओं, ग्राहक सेवा और हरित पहलों में 107 वर्षों के अपने ट्रैक रिकॉर्ड के साथ टाटा पावर कई गुणा वृद्धि करने की सुदृढ़ स्थिति में है और आने वाली पीढ़ियों के जीवन को रौशन करने के लिये प्रतिबद्ध है। ज्‍यादा जानकारी के लिये www.tatapower.com को विजिट करें।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

भारत में शोकेस हुए Xiaomi की इलेक्ट्रिक कार SU7

चीन की दिग्गज टेक कंपनी Xiaomi ने भारत में...

कार्यकर्ताओं के तिरस्कार की वजह से हारे यूपी, समीक्षा बैठक में सामने आया सच

लोकसभा चुनाव के दौरान उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा...

रूस में बोले पीएम मोदी, 2014 से पहले देश गहरी निराशा में डूबा था

रूस की दो दिवसीय यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र...

पीएलआई योजना के तहत दूरसंचार उपकरण विनिर्माण की बिक्री 50,000 करोड़ रुपये के पार

संचार मंत्रालय के नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक दूरसंचार उपकरण...