Site icon Buziness Bytes Hindi

Meta Threads: सिर चढ़कर बोल रहा Threads, मस्क ने भेजा जुकरबर्ग को कानूनी नोटिस

jl0704

Meta Threads: मेटा का टेक्स्ट-आधारित एप Threads App लॉन्च होने के साथ अब कानूनी विवादों में घिर गया है। Threads के प्रतिद्वंद्वी ट्विटर ने मुकदमा दायर करने की धमकी दी है। इसने Threads पर ट्विटर कॉपी करने का आरोप लगाया है। गुरुवार को लॉन्च होने के बाद से Threads एप लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। Threads को अभी तक 3 करोड़ लोग डाउनलोड कर चुके हैं। Threads ऐसे समय में आया, जब ट्विटर द्वारा एप पर नए नियमों का एलान किया गया है।

ट्विटर ने जारी किए थे नए फरमान

ट्विटर ने बिना ब्लू टिक वाले यूजर्स के पोस्ट की संख्या निर्धारित की थी। उसके बाद कंपनी ने बिना ब्लू टिक वाले यूजर्स के ट्वीटडेक के उपयोग पर रोक लगाई है। एलन मस्क के इन फैसलों का ट्विटर यूजर ने विरोध किया है। ट्विटर यूजर्स, ट्विटर का अल्टरनेटिव तलाश रहे हैं। ऐसे में मेटा ने नया एप Threads लॉन्च कर दिए हैं। Threads लांच करना फायदे का सौदा साबित हो सकता है।

एलन मस्क ने पत्र लिखकर दी धमकी

Threads ऐप को लेकर ट्विटर सीईओ एलन मस्क ने चुप्पी तोड़ी है। मस्क के वकील एलेक्स स्पिरो ने मेटा के सीईओ मार्क जुकरबर्ग को पत्र लिखा है। जिसमें उन्हें अदालत में घसीटने की धमकी दी गई है। उन्होंने मेटा पर ट्विटर के व्यापार और अन्य बौद्धिक संपदा के गैरकानूनी दुरुपयोग का आरोप लगाया। जुकरबर्ग पर दर्जनों पूर्व ट्विटर कर्मचारियों को काम पर रखने का आरोप लगाया है।

रिपोर्ट के अनुसार, पत्र में कहा है कि मेटा ने उन कर्मचारियों को रखा, जिनकी ट्विटर के रहस्यों और उसकी गोपनीय जानकारी उनको मिल सके। उन्होंने कहा कि इन लोगों को अभी ट्विटर की गोपनीय जानकारी है। एलन मस्क ने मेटा को चेतावनी देते हुए ट्वीट के जवाब में कहा कि प्रतिस्पर्धा ठीक है लेकिन धोखाधड़ी नहीं।

मेटा ने अपने बचाव में कहा कि Threads की इंजीनियरिंग टीम में पूर्व ट्विटर कर्मचारी नहीं है। मेटा प्रवक्ता एंडी स्टोन ने Threads पोस्ट में कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। हमारी Threads की इंजीनियरिंग टीम में कोई भी पूर्व ट्विटर कर्मचारी नहीं रखा गया है। मस्क के ट्विटर के लिए Threads अब तक की सबसे बड़ी चुनौती बताई जा रही है।

Exit mobile version