Vaman Dwadashi 2022: आज बुधवार को वामन द्वादशी पर ब्राहमण को दान करने से होगा धन लाभ

 
Vaman dwadashi 2022:

भाद्रपक्ष मास के शुक्लपक्ष की द्वादशी तिथि को वामन द्वादशी या वामन जयंती मनाई जाती है। श्रीमद्भागवत के मुताबिक इसी तिथि पर भगवान वामन  प्राकट हुए थे। इस बार वामन द्वादशी आज सितम्बर बुधवार को पड़ रही है। धर्म ग्रंथों में वामन को भगवान विष्णु का अवतार माना है। वामन द्वादशी का व्रत इस प्रकार करें.

वैष्णव भक्तों को उपवास करना चाहिए। सुबह स्नान  करने के बाद वामन द्वादशी व्रत का संकल्प लेना चाहिए। दोपहर अभिजित मुहूर्त में वामन भगवान की पूजा करनी चाहिए। इसके बाद बर्तन में चावल, दही और शक्कर रखकर किसी योग्य ब्राह्मण को दान कर दें। 
शाम के समय व्रत करने वाला फिर से स्नान करने के बाद भगवान वामन का पूजन करें। व्रत कथा सुननी चाहिए। इसके बाद ब्राह्मण को भोजन कराए। स्वयं फलाहार करना चाहिए। इस तरह व्रत और पूजन करने से भगवान वामन प्रसन्न होते हैं और भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते हैं।