Sawan Month 2022: कल बेहद शुभ संयोग में शुरू हो रहा सावन इन नियमों का करें पालन बरसेगी शिव कृपा

 
Sawan Month 2022

सावन माह हिंदू धर्म में बेहद पवित्र माना गया है। भगवान शिव की कृपा पाने के लिए यह माह उनकी पूजा के लिए सर्वश्रेष्‍ठ बताया गया है। 14 जुलाई गुरुवार से सावन मास की शुरूआत हो रही है। इसे श्रावण मास भी कहते हैं। शिव के इस प्रिय महीने में विधि-विधान से पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से भोलेनाथ न केवल सभी दुखों को दूर करते हैं। बल्कि सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। शिव की पूजा के अलावा इस माह को लेकर कुछ नियम बताए  हैं। जिनका पालन करना जरूरी होता है।  सावन माह के सभी सोमवार व्रत जरूर रखें। इस दिन शिव का अभिषेक करें। इस दौरान ओम नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। सोमवार व्रत कथा सुनें। 

Read also: Astrology Today: जिद्दी स्वभाव और कुशाग्र बुद्धि के होते हैं आज ​के दिन जन्में व्यक्ति

सावन सोमवार के दिन 108 बार महामृत्युंजय मंत्र का जाप जरूर करें। शिवलिंग पर बेलपत्र, दही,दूध, शहद, घी,गंगाजल आदि पंचामृत से अभिषेक करें। संभव हो तो इस माह रुद्राक्ष धारण करें। सावन माह में नॉनवेज-शराब का सेवन न करें। ऐसा करने से शिव नाराज होते हैं। सावन माह में किसी से झगड़ा-विवाद न करें। ना किसी का अपमान करें। यदि सावन में सोमवार व्रत रखना शुरू कर दिया तो उन्‍हें बीच में न तोड़ें। भले एक बार फलाहार करके व्रत करें लेकिन करें। सावन माह में लहसुन-प्याज, मूली, बैगन और अदरक न खाएं।