Le Roi कंपनी की Floating Huts में पर्यटकों की जिंदगी से भी हो रहा खिलवाड़,कभी भी हो सकता है हादसा

उत्तराखंडLe Roi कंपनी की Floating Huts में पर्यटकों की जिंदगी से भी...

Date:

टिहरी। एशिया की सबसे बड़े टिहरी बाध की झील पर ली रॉय कंपनी की फ्लोटिंग हट्स का एक और कारनामा सामने आया है। ली रॉय कंपनी भगीरथी को मैला कर ही रही है इसी के साथ ही कंपनी फ्लोटिंग हट्स में ठहरने वाले पर्यटकों की जिंदगी से भी खिलवाड़ कर रही है। फ्लोटिंग हट्स में रुकने वालों के लिए बचाव की कोई सुविधा नहीं है। बताया जा रहा है कि फ्लोटिंग हट्स एक तरफ से मुड गई है। जिससे उसका एंकर टूट गया है। इस एंकर को ठीक कराने के लिए किसी विशेषज्ञ की मदद नहीं ली गई। इसको ठीक करने के लिए कंपनी ने अपने ही कर्मचारियों को लगा दिया। जिन्होंने उसको ठीक करने की कोशिश की है। झील में कंपनी की इस तरह की हरकत और लापरवाही से फ्लोटिंग हटस में ठहरने वाले पर्यटकों की जान को खतरा है। कंपनी अपने हितों के लिए पर्यटकों की जान से खेल रही है। कंपनी द्वारा फ्लोटिंग हट्स के सीवर से मल, मूत्र वेस्ट मेटीरियल आदि तो टिहरी झील में डाला ही जा रहा है।

अब टिहरी के लोगों ने भगीरथी को गंदा होते देख ली रॉय कंपनी ओर पर्यटन बिभाग के बीच हुए एग्रीमेंट को निरस्त करने की मांग की है। इसकेा लेकर पर्यावरणविद और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने शासन प्रशासन को चेतावनी दी है। जिसमें कहा है कि अगर फ्लोटिंग हट्स से निकलने वाली गंदगी को टिहरी झील में गिरने से नहीं रोका गया तो अनशन व तालाबंदी की जाएगी।

बता दें कि एशिया के सबसे बड़े टिहरी बांध की झील पर बनी फ्लोटिंग हट्स का सीवर मल मूत्र के अलावा वेस्ट मेटीरियल टिहरी झील में डाला जा रहा है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। यह वीडियो शासन प्रशासन को भेजा गया था। जिसको लेकर टिहरी जिला प्रशासन ने फ्लोटिंग हट्स की जांच के लिए एसडीएम के नेतृत्व में एक कमेटी बनाई थी और जांच टीम ने फ्लोटिंग हट्स में भारी खामियां पाई थी। जांच कमेटी ने खामियों को देख 7 अक्तूबर को इसको अस्थायी रूप से सील कर दिया था। लेकिन कंपनी ने शासन स्तर से इसको संचालित करने की अनुमति ले ली थी। इतनी भारी अनियमिता सामने आने के बाद भी अभी तक प्रशासन और शासन की ओर से ली रॉय कंपनी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

इसी के साथ फ्लोटिंग हट्स का एक और कारनामा सामने आया है। इस भी वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि फ्लोटिंग हट्स मुडने से इसका एंकर टूट गया। टूटे हुए एंकर को ठीक करने के लिए ली रॉय ग्रुप कंपनी के अधिकारी बिना नॉन टेक्निकल कर्मचारियों के इसको खुद ही ठीक कर रहे हैं। जिससे इस फ्लोटिंग हट्स पर रुकने वाले पर्यटकों के साथ कभी भी बड़ी जनहानि हो सकती है। फ्लोटिंग हट्स एंकर को ठीक करने के लिए टेक्निकल कर्मचारी की जरूरत होती है। इसे टेक्निकल अधिकारी ही ठीक कर सकते हैं।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

FIFA WC 2022: ग्रुप D से ऑस्ट्रेलिया-पोलैंड अंतिम 16 में

ऑस्ट्रेलिया ने डेनमार्क जैसी धुरंधर टीम को 1-0 से...

Incident: ट्रेन में बैठे यात्री के गर्दन में घुसी सरिया, मौत

मौत का कोई ठिकाना नहीं होता, कहीं से भी...

Controversy again: लैपिड के बयान से फिर चर्चित हुई ‘द कश्मीर फाइल्स’

पिछले साल की सबसे बड़ी विवादित और कमाई के...

गुजरात में AAP के दावे और असलियत

अमित बिश्नोई गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान...