Site icon Buziness Bytes Hindi

आईपीएल: आंकड़ों में गुजरात टाइटंस और CSK

csk

आईपीएल 2023 के लिए मंच सज चुका है। लीग की शुरुआत शुक्रवार को अहमदाबाद में गत चैंपियन गुजरात टाइटंस और चार बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मुकाबले से होगी। गुजरात जहां चेन्नई पर जीत की हैट्रिक लगाने के इरादे से आईपीएल में उतरेगा, वहीं चेन्नई का ध्यान गुजरात के खिलाफ पहली जीत हासिल करने पर रहेगा। ऐसे में आइए नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ आंकड़ों पर जो मुकाबले में अपनी छाप छोड़ सकते हैं।

गेंदबाज़ी नहीं करेंगे स्टोक्स

आंकड़े कहते हैं कि गुजरात के ज्यादातर गेंदबाजों के सामने बल्लेबाज स्टोक्स मुश्किल में नजर आते हैं। टी20 में हार्दिक पांड्या और राशिद खान ने तीन-तीन बार स्टोक्स को अपना शिकार बनाया है. जबकि मोहम्मद शमी दो बार स्टोक्स को पवेलियन की राह दिखा चुके हैं। राशिद (71) और पांड्या (88) के खिलाफ स्टोक्स ने 100 से कम के स्ट्राइक रेट से रन बनाए। जबकि टी20 में शमी 16 गेंदों में सिर्फ 14 रन ही बना पाए हैं।

डेवोन कॉनवे स्पिन के खिलाफ मारक

स्टोक्स के अलावा सीएसके के एक अन्य बाएं हाथ के बल्लेबाज मोईन अली भी गुजरात के गेंदबाजों के खिलाफ टी20 में संघर्ष करते नजर आते हैं। राशिद ने टी20 में तीन बार मोईन को अपना शिकार बनाया है जबकि पांड्या ने दो बार उन्हें पवेलियन भेजा है. शमी भले ही एक बार भी मोईन को पवेलियन भेजने में सफल नहीं हुए हों, लेकिन शमी के खिलाफ मोइन का स्ट्राइक रेट केवल 77 है. हालांकि, पिछले आईपीएल में सीएसके के सलामी बल्लेबाज बल्लेबाज डेवोन कॉनवे ने स्पिन के खिलाफ 177 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे. ऐसे में अगर कॉनवे और राशिद आमने-सामने आ जाते हैं तो दोनों के बीच की लड़ाई देखने लायक होगी।

CSK लेफ्टी बल्लेबाज़ों की भरमार

सीएसके का बैटिंग लाइन-अप बाएं हाथ के बल्लेबाजों से भरा है जो राशिद को गंभीर चुनौती दे सकते हैं। ऐसे में चेन्नई के लिए अंबाती रायडू का लय में होना बेहद जरूरी है। हालांकि, गुजरात के गेंदबाज मोहित शर्मा के खिलाफ टी20ई में उनका रिकॉर्ड संतोषजनक नहीं है। मोहित ने रायुडू को टी20 में हर सातवीं गेंद पर औसतन पवेलियन लौटने पर मजबूर कर दिया है. मोहित ने 12 टी20 पारियों में रायडू के सामने 42 गेंदें फेंकी हैं जिसमें रायडू छह बार आउट हुए हैं। शमी ने उन्हें दो बार पवेलियन भी भेजा है।

गुजरात पर भारी पड़ते हैं ऋतुराज

सीएसके के दो अहम बल्लेबाजों पर भले ही गुजरात के गेंदबाज हावी हैं, लेकिन सलामी बल्लेबाज रितुराज गायकवाड़ के सामने गुजरात के ज्यादातर गेंदबाज पानी मांगते नजर आते हैं. ऐसे में रितुराज पर गुजरात के गेंदबाजों के खिलाफ अपना ट्रैक रिकॉर्ड बरकरार रखने का दबाव भी होगा और जिम्मेदारी भी। मुकेश चौधरी पिछले सीजन में दीपक चाहर की गैरमौजूदगी से पैदा हुई खाई को पाटने में सफल रहे थे. मुकेश ने आईपीएल में कुल 16 विकेट लिए, जिसमें उन्होंने पावरप्ले में ही 11 विकेट लिए। ऐसे में अगर मुकेश पहले मैच में प्लेइंग इलेवन में फिट हो जाते हैं तो गुजरात के बल्लेबाजों के लिए मुसीबत खड़ी कर सकते हैं. मुकेश के अलावा महिष तीक्षाना ने भी पिछले सीजन में पावरप्ले में गेंदबाजी करते हुए अपने कुल 12 विकेट में छह विकेट लिए थे।

Exit mobile version