depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

भाजपा जीती तो मोदी नहीं अमित शाह बनेगे PM, योगी का लग जायेगा काम: केजरीवाल

नेशनलभाजपा जीती तो मोदी नहीं अमित शाह बनेगे PM, योगी का लग...

Date:

50 दिन बाद तिहाड़ से बाहर आये दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आज प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। केजरीवाल ने कहा कि ये दोनों वन वन नेशन वन लीडर की राजनीति की कोशिश कर रहे हैं और उसके लिए ये दो स्तर पर काम कर रहे हैं, पहले स्तर में विपक्ष के सभी नेताओं को जेल में डालना और दुसरे स्तर में भाजपा के नेताओं का काम लगा देना। बिलकुल वैसे ही जैसे इन्होने लाल कृष्ण अडवाणी को निपटाया, मुरली मनोहर जोशी को निपटाया, सुमित्रा महाजन को निपटाया, यशवंत सिन्हा को निपटाया, रमन सिंह को निपटाया, वसुंधरा राजे सिंधिया को निपटाया, और तो और मध्य प्रदेश में उस शिवराज चौहान की राजनीती को ख़त्म कर दिया जिसने इन्हें मध्य प्रदेश का चुनाव जीतकर दिया।

केजरीवाल ने कहा प्रधानमंत्री मोदी अपने भाषणों में सवाल करते हैं कि इंडिया गठबंधन का प्रधानमंत्री उम्मीदवार कौन है? लेकिन मैं मोदी से पूछना चाहता हूँ कि भाजपा का प्रधानमंत्री उम्मीदवार कौन है, केजरीवाल ने कहा कि प्रधानम्नत्री मोदी 17 सितम्बर को 75 साल के हो जायेंगे, मोदी जी ने ही ये नियम बनाया है कि भाजपा में 75 साल की उम्र वाला सक्रीय राजनीति से सन्यास ले लेगा और मार्गदर्शक मंडल में चला जायेगा, जैसे कि मोदी जी ने आडवाणी, मुरलीमनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा और सुमित्रा महाजन जैसे नेताओं को भेजा। अब बारी है मोदी जी की, तो मोदी जी! मोदी की गारंटियों की जो बात कर रहे हैं उन्हें पूरा कौन करेगा। केजरीवाल ने कहा कि दरअसल मोदी जी खुद के लिए नहीं बल्कि अमित शाह के लिए वोट मांग रहे हैं. अगर भाजपा चुनाव जीती तो अगला प्रधानमंत्री मोदी जी नहीं अमित शाह होंगे।

केजरीवाल ने कहा, इन्होने रमन सिंह का काम लगा दिया, वसुंधरा का काम लगा दिया, शिवराज चौहान का काम लगा दिया, खट्टर साहब का काम लगा दिया और अब बारी योगी आदित्यनाथ की है. केजरीवाल ने कहा मुझसे लिखवा के ले लो, अगर ये चुनाव जीत गए दो महीने में उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बदल जाएगा। केजरीवाल ने कहा कि ये देश में नेतृत्व को ख़त्म करना चाहते, ये चाहते कि देश में सिर्फ एक आदमी की तानाशाही चले. केजरीवाल ने या भी कहा कि इनका अब सत्ता में आना बहुत मुश्किल है, उन्होंने कहा कि इनकी सीटें महाराष्ट्र, कर्नाटक, बंगाल, दिल्ली, बिहार, राजस्थान, यहाँ तक कि उत्तर प्रदेश में कम हो रही हैं तो इनकी सीटें बढ़ेंगी कहाँ से.

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

नए रिकॉर्ड स्तर पर सेंसेक्स-निफ़्टी

बेंचमार्क सूचकांक निफ्टी और सेंसेक्स ने 18 जून को...

उत्तराखंड में भीषण हादसा, टेंपो ट्रैवलर नदी में गिरा, 14 की मौत

उत्तराखंड के बद्रीनाथ हाईवे पर आज एक टेंपो ट्रैवलर...

SBI ने होम लोन पर बढ़ाया ब्याज

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट में कोई बदलाव...

पराग ने भी बढ़ा दिए दूध के दाम

अमूल के बाद पराग दूध ने भी कीमतों में...