Seafood Market in Wuhan: वुहान के सीफूड बाजार से फैला था जानलेवा कोरोना वायरस,जीवित जानवरों में मौजूद था संक्रमण

 
Seafood Market in Wuhan

नई दिल्ली। कोरोना महामारी दुनियाभर में बड़ी परेशानी का सबब बनी हुई है। इसे लेकर बार-बार सवाल उठता रहा है कि आखिर ये वायरस कैसे और कहां से फैला? इसका अभी तक कोई अंतिम उत्तर नहीं मिला है। एक नए शोध के आधार पर दावा किया है कि चीन के वुहान स्थित सीफूड व वन्य प्राणी बाजार से कोरोना वायरस फैला है। जिसने अब तक दुनियाभर में 64 लाख से अधिक लोगों की जान  ली है।  कोरोना को लेकर प्रकाशित दो नए अध्ययन में एक नतीजा साफ निकाला गया है कि कोरोना वुहान के हुआनान समुद्री व वन्य जीव बाजार से फैला। 

पहले अध्ययन में चीनी वैज्ञानिकों और जीव विज्ञानी एरिज़ोना विश्वविद्यालय के उनके सहयोगियों ने स्थानीय पर्यावरणीय विश्लेषण का निर्धारण करने के लिए मैपिंग टूल के अलावा सोशल मीडिया ऐप का उपयोग कर डेटा का मिलान किया। उन्होंने दावा किया कि कोविड—19 वायरस संभवतः 2019 के अंत में वुहान बाजार में बेचे जाने वाले जीवित जानवरों से ही चीन में फैला है।  रिपोर्ट के अनुसार यह एक संकेत है कि वायरस उन लोगों में फैला जो बाजार में काम करते थे। इसके बाद स्थानीय समुदाय में फैलने लगे। वैज्ञानिकों ने दावा किया कि सबसे पहले कोविड—19 वायरस के मामले बाजार में विक्रेताओं के बीच सामने आए थे। जिन्होंने जीवित जानवरों या वहां खरीदारी करने वाले लोगों को बेचा था। कोविड—19 वायरस जानवरों में दो अलग-अलग जगहों पर घूम रहे थे जो लोगों को संक्रमित करते रहे थे।

Read also: Coronavirus Research Update: कोरोना से ठीक हुए लोगों में पांच फीसदी आज भी इस बीमारी के शिकार

20 दिसंबर 2019 से पहले पाए गए सभी आठ कोविड—19 वायरस के मामले बाजार के पश्चिमी हिस्से से थे। जहां स्तनपायी प्रजातियां बेची जाती थीं। दूसरा अध्ययन निर्धारित करने के लिए एक सूक्ष्म विश्लेषण देता है कि दिसंबर 2019 में पहले नमूना जीनोम से शुरू होने वाला कोविड—19 वायरस संक्रमण जानवरों से मनुष्यों में आया और फरवरी 2020 के मध्य तक यह बुरी तरह से फैल गया। शोध के अनुसार कोविड—19 वायरस के शुरुआती संस्करण में संभवतः दो वंश ही थे। जिन्हें वैज्ञानिक ए और बी कहते हैं। इसने कहा कि ये वंश मनुष्यों में कम से कम दो क्रॉस-प्रजाति संचरण घटनाओं का परिणाम बने थे।

अध्ययन में दावा किया है कि पहला पशु-से-मानव संचरण संभवतः वंश बी से आया। यह 18 नवंबर, 2019 के आसपास हुआ। उन्होंने वंश बी प्रकार को उन लोगों में पाया जिनका पशु बाजार से सीधा संबंध रहता था। कोविड—19 वायरस वंश ए को जानवरों से मनुष्यों में वंश B से संक्रमण के हफ्तों या दिनों के भीतर पेश किया गया। यह वंश उन मनुष्यों के नमूनों में पाया था जो बाजार में रहते थे।