Covid Booster Dose: संक्रमण की स्थिति हुई समान्य तो घटने लगी बूस्टर डोज लगवाने वालों की दर

 
Covid Booster Dose

देहरादून। सरकार और स्वास्थ्य विभाग के प्रयासों के बावजूद उत्तराखंड में अभी तक मात्र 20 फीसद लोगों ने कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाई है। संक्रमण की स्थिति सामान्य होने से बूस्टर डोज लगवाने वालों की रफ्तार धीमी पड़ गई। लोग बूस्टर डोज लगवाने के प्रति अब लापरवाह दिख रहे हैं।  कोरोना संक्रमण का खतरा अभी कम नहीं है। प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। केंद्र सरकार की तरफ से 18 साल से अधिक आयु के लिए कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज निशुल्क लगाई जा रही है। इसके बावजूद वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके लोग बूस्टर डोज के प्रति लापरवाही कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश की कुल आबादी सवा करोड़ के लगभग है। इसमें 12 साल से अधिक आयु के 89ः35 लाख लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है। इसके सापेक्ष एक पहली डोज में शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया। जबकि दूसरी डोज में 95 फीसद लक्ष्य हासिल किया गया। दोनों डोज लगाने वाले 20 फीसद को अब तक बूस्टर डोज लग पाई है। 

Read also: Dengue Fever Alert: बढ़ने लगा डेंगू का खतरा, घटने लगी मरीजों की प्लेटलेटस

राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ0 कुलदीप सिंह मर्तोलिया ने जानकारी दी कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ। जिससे संक्रमण से सुरक्षा कवच के लिए बूस्टर डोज अभी बेहद जरूरी है। सरकार की तरफ से 18 साल से अधिक आयु के लोगों को निःशुल्क बूस्टर डोज लगाई जा रही है। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील की है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन जरूर लगाएं। बता दें कि प्रदेश में संक्रमण के मामले कम होने के साथ सक्रिय मरीजों की संख्या घट रही है। फिलहाल प्रदेश में 418 सक्रिय मरीज हैं। जिनका इलाज चल रहा है। इसी के साथ संक्रमितों की रिकवरी दर 95ः68 फीसद और संक्रमण दर घटकर 3ः07 फीसद दर्ज की गई है।