Monkeypox in India: भारत के केरल में मिला मंकीपॉक्स संक्रमित मरीज,देश के अन्य राज्यों में अलर्ट

 
Monkeypox in India

नई दिल्ली। भारत के केरल में विदेश से लौटा एक व्यक्ति मंकीपॉक्स संक्रमित पाया गया है। विदेश से लौटे इस व्यक्ति का सैंपल जांच के लिए लैब में भेजा गया था। लैब की रिपोर्ट आने के बाद संबंधित व्यक्ति में मंकीपॉक्स वायरस की पुष्टि हो गई है। केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने आज गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मंकीपॉक्स मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया है। विदेश से लौटने के बाद इस व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण दिखाई दिए तो इसके खून के सैंपल को परीक्षण के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया था। जांच रिपोर्ट आने के बाद व्यक्ति में मंकीपॉक्स बीमारी की पुष्टि हो गई है। मंत्री जॉर्ज ने मंकीपॉक्स मरीज के बारे में अधिक जानकारी दिए बिना कहा कि रिपोर्ट में व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण पाए गए है और वो विदेश में एक मंकीपॉक्स रोगी के निकट संपर्क में था। 

Read also: Breaking News: तेज आवाज में नहीं बजेगा डीजे,ऐप पर होगा कांवड़ियों का रजिस्ट्रेशन

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, मंकीपॉक्स एक वायरल जूनोसिस(पशुओं से इंसान में फैलने वाला वायरस) होता है। इसमें पहले चेचक के रोगियों में देखे गए लक्षणों के समान लक्षण होते हैं।हालांकि, इलाज की दृष्टि से यह कम गंभीर बीमारी होती है। बता दें कि 1980 में चेचक के खात्मे और उन्मूलन के लिए उसके बाद टीकाकरण की समाप्ति के बाद मंकीपॉक्स बड़ा ऑर्थोपॉक्सवायरस के रूप में उभरा है। केरल में मंकीपॉक्स का मामला सामने आने के बाद देश के अन्य राज्यों में अलर्ट घोषित किया गया है।