depo 25 bonus 25 to 5x Daftar SBOBET

स्टंपिंग, DRS और नो बाल से जुड़े नियमों में बदलाव

फीचर्डस्टंपिंग, DRS और नो बाल से जुड़े नियमों में बदलाव

Date:

इस साल आईपीएल 2024 और उसके बाद जून में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में आईसीसी द्वारा हाल ही में स्टंपिंग और उससे जुड़े डीआरएस के नियम लागू हो जाएंगे।

आईसीसी द्वारा बदला गया सबसे बड़ा नियम स्टंपिंग और उसके बाद लिए जाने वाले अंपायर रिव्यू को लेकर है। स्टंपिंग के साथ यह भी चेक किया जाता है कि गेंद बल्ले से लगी है या नहीं। अक्सर इस मौके पर टीमों का DRS बच जाता था। इस नियम का फायदा उठाकर विकेटकीपर्स चालाकी करने लगे थे। बार-बार बिना डीआरएस लिए कैच चेक करने के लिए वह स्टंपिंग की जानबूझकर अपील करते थे ताकि मामला थर्ड अंपायर के पास जाए। लेकिन अब यह नियम बदल गया है। अब स्टंपिंग रिव्यू में स्टंपिंग ही चेक होगी ना कि कैच आउट। अगर फील्डिंग टीम को कैच चेक करना है तो अलग से DRS लेना होगा।

आईसीसी ने नए साल पर कनकशन नियम को भी बदल दिया गया है। सिर पर चोट लगने पर कनकशन का नियम लागू होता और उस चोटिल खिलाड़ी की जगह किसी खिलाड़ी को रिप्लेस किया जा सकता है जो अंतिम 12 या 15 का हिस्सा है। लेकिन अब इस नियम में थोड़ा चेंज। नए नियम के हिसाब से अगर चोटिल होने वाले खिलाड़ी को पहले से ही गेंदबाजी से रोका जा चुका है तो सब्सटिट्यूट खिलाड़ी भी गेंदबाजी नहीं कर पाएगा। साथ ही अगर किसी प्लेयर के चोट लगती है तो डॉक्टर व फिजियो के पास सिर्फ इस बात का फैसला लेने के लिए सिर्फ 4 मिनट का समय होगा कि वो खिलाड़ी ट्रीटमेंट के बाद दोबारा खेल पाएगा या रिटायर्ड हर्ट होकर जाएगा।

तीसरा नियम जिसमें बदलाव हुआ है वो है थर्ड अंपायर की नो बॉल चेकिंग का नियम। पिछले कुछ सालों से थर्ड अंपायर द्वारा फ्रंट फुट नो बॉल चेक की जाने लगी है। अब इसी में एक नया नियम जुड़ा है अब फ्रंट फुट के अलावा थर्ड अंपायर को यह भी देखना होगा कि गेंदबाज का पैर लाइन के पीछे तो नहीं है। गेंदबाज के पैर बॉलिंग बॉक्स में हैं या नहीं यह सभी चीजें अब थर्ड अंपायर को ध्यान देनी होंगी।

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

पासपोर्ट इंडेक्स में और नीचे आया भारत

वैसे तो बकौल प्रधानमंत्री मोदी दुनिया में भारत का...

बच्चों के लिए LIC ने पेश की “अमृतबाल” योजना

भारतीय जीवन बीमा निगम ने एक नया एंडोमेंट प्लान...

प्रतापगढ़ में राहुल के निशाने पर भाजपा और आरएसएस

भारत जोड़ो न्याय यात्रा में आज प्रतापगढ़ में राहुल...

इलेक्टोरल बांड: इतना सन्नाटा क्यों है?

अमित बिश्नोईदेश की सर्वोच्च अदालत ने चुनावी चंदे पर...