Repose Mattress ने मैट्रेसेस की स्मार्टग्रिड रेंज को बाजार में उतारा

 
Repose Mattress

  • रिपोसे मैट्रेस प्राइवेट लिमिटेड भारत में सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली मैट्रेस निर्माता कंपनियों में से एक है
  • उन्होंने अपने कारोबार को 200 करोड़ रुपये तक पहुँचाने का लक्ष्य रखा है, जो पिछले वित्त-वर्ष के कारोबार का दोगुना है।
  • देश के नए बाजारों – दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में कंपनी की मौजूदगी का विस्तार किया जा रहा है।
  • बाजार में मौजूदा डीलरों की संख्या 1,500 है, जिसमें 200 नए डीलर शामिल किए जाएंगे।
  • अभिनेता/ फिल्म-निर्माता प्रभु देवा को कंपनी ने अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।
  • पेश है स्मार्टग्रिड के 2 अलग-अलग वेरिएंट, जो जापान की पेटेंट टेक्नोलॉजी की मदद से तैयार किया गया उनका नवीनतम मैट्रेस प्रोडक्ट है

19 जुलाई, 2022 लखनऊ:  रिपोसे मैट्रेस प्राइवेट लिमिटेड भारत में सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली मैट्रेस निर्माता कंपनियों में से एक है, जिसकी स्थापना नवंबर 2012 में हुई थी और इसके कारखाने कोयंबटूर, पुणे तथा मेरठ में स्थित हैं। पूरे भारत में 400 कर्मचारियों और देश के विभिन्न हिस्सों में बिक्री के लिए 1,500 डीलरों के नेटवर्क के साथ, रिपोसे ने पिछले वित्त-वर्ष में 103 करोड़ रुपये का कारोबार किया था।

रिपोसे ने स्प्रिंग मैट्रेस के निर्माण के साथ कारोबार की शुरुआत की थी, और बीते वर्षों में कंपनी ने अपने उत्पादों के प्रस्ताव में कॉयर तथा फोम मैट्रेस को भी शामिल किया है। कंपनी को मैट्रेस के क्षेत्र में हमेशा अपनी नई खोज के लिए जाना जाता है, तथा उनके कई उत्पाद बेहद खास हैं जिन्हें बाजार में उच्च वर्ग के ग्राहकों को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है।  

श्री बालाजी वी., सीएमओ, रिपोसे मैट्रेस ने कहा, "रिपोसे फिलहाल मुख्य रूप से दक्षिण भारतीय बाजार के ग्राहकों को अपने उत्पाद उपलब्ध करा रहा है, और धीरे-धीरे उत्तर भारत के नए क्षेत्रों में भी कंपनी का विस्तार हो रहा है। हमने दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में अपनी मौजूदगी दर्ज करने का लक्ष्य रखा है। हम इन राज्यों में कम से कम 200 नए डीलरों को अपने साथ जोड़ेंगे, जिन्हें मेरठ में हमारे कारखाने से उत्पाद उपलब्ध कराए जाएंगे। अब हम ओड़िशा के भुवनेश्वर या पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक और कारखाना स्थापित करने पर सक्रियतापूर्वक विचार कर रहे हैं। पिछले वित्त-वर्ष में हमारा कारोबार 100 करोड़ रुपये का कारोबार किया था, और हमारा उद्देश्य अपने टर्नओवर को बढ़ाकर 200 करोड़ रुपये तक पहुँचाना है।

उन्होंने आगे कहा, “हमने डांस के सुपरस्टार, प्रभु देवा को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। पूरे देश में उनकी फैन फॉलोइंग है और रिपोसे ने उनके कद का उपयोग करके राष्ट्रीय स्तर के मैट्रेस ब्रांड बनने का लक्ष्य रखा है। हाल ही में हमने टीवी और स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर विज्ञापनों की एक सीरीज शुरू की है, जिसमें वे नजर आ रहे हैं।" 

कंपनी अपने अभिनव प्रस्तावों को ध्यान में रखते हुए और ‘वेक अप टू फ्रेश आइडियाज’ के अपने ब्रांड के मूल सिद्धांत के अनुरूप, और बाजार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए रिपोसे अब अपने मैट्रेस की श्रृंखला में बिल्कुल नए उत्पाद – स्मार्टग्रिड मैट्रेस की पेशकश के लिए तैयार है।

इस मौके पर श्री रवि पंडित, वीपी-सेल्स एंड बिजनेस डेवलपमेंट, रिपोसे मैट्रेस, ने कहा, "स्मार्टग्रिड मैट्रेस रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा विकसित की गई तकनीक पर आधारित है। यह मैट्रेस हाइपर-इलास्टिक पॉलिमर से बना है, जिसमें मैटेरियल साइंस तथा स्लीप साइंस की अत्याधुनिक तकनीक का उपयोग किया गया है। यह कम्फर्ट टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर बदलाव लाने वाला है।"  

 स्मार्टग्रिड टेक्नोलॉजी के फायदे:

  • शरीर को कुछ अंगों – यानी कंधे और कूल्हे के आसपास बेहद मुलायम गद्दे की जरूरत होती है, और ये मैट्रेस उन जगहों पर बेहद मुलायम होते हैं। दूसरी तरफ, शरीर को कुछ अंगों – यानी पीठ के आसपास ठोस आधार की जरूरत होती है और ये मैट्रेस उन जगहों पर अधिक सख्त होते हैं।
  • इसमें 2,500 से ज्यादा एयर चैनल होते हैं, जिसकी वजह से इसका टेंपरेचर न्यूट्रल ग्रिड डिज़ाइन मैट्रेस को ठंडा रखता है।
  • स्मार्टग्रिड की वजह से शरीर को पूरा आराम मिलता है, जिसके परिणामस्वरूप रात में बिस्तर पर इधर-उधर करवट बदलना कम हो जाता है और चैन की नींद आती है।
  • ये मैट्रेस बेहद टिकाऊ होते हैं और समय के साथ इनमें ढीलापन नहीं आता है और लंबे समय तक इस्तेमाल करने के बाद भी इनका स्वरूप पहले की तरह बना रहता है।

स्मार्टग्रिड प्रोडक्ट की रेंज

फिलहाल इसके दो वेरिएंट लॉन्च किए जा रहे हैं:

1. ग्रिड मैट्रेस के साथ पॉकेटेड स्प्रिंग

2. ग्रिड मैट्रेस के साथ फोम

स्मार्टग्रिड उत्पाद के अलावा, रिपोसे अपने ग्राहकों को मैट्रेस की एक बड़ी रेंज उपलब्ध कराता है और निकट भविष्य में देश के अन्य क्षेत्रों में कंपनी के दायरे का विस्तार होगा।