एफएटीएफ की ‘ग्रे’ लिस्ट में बरकरार पाकिस्तान! काम नहीं आई चीन और तुर्की की हिमायत

 
एफएटीएफ की ‘ग्रे’ लिस्ट में बरकरार पाकिस्तान! काम नहीं आई चीन और तुर्की की हिमायत एफएटीएफ की ‘ग्रे’ लिस्ट में बरकरार पाकिस्तान! काम नहीं आई चीन और तुर्की की हिमायत

इस्लामाबादः पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को झटका लगा है। एफएटीएफ की ‘ग्रे’ सूची बरकरार रहेगा। चीन और तुर्की ने कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो सके।

किसी भी सदस्य ने प्रस्ताव को नहीं दी मंज़ूरी
पाकिस्तान, वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) की ‘ग्रे’ सूची में संभवत: बना रहेगा, क्योंकि वह एफएटीएफ की कार्य योजना के 27 लक्ष्यों में से छह का अनुपालन करने में असफल रहा है। प्रस्ताव को 38 सदस्यीय पैनल के सामने रखा गया तो किसी ने भी प्रस्ताव को मंजूरी नहीं दी।

‘ग्रे’ सूची में बना रहेगा पाकिस्तान
एफएटीएफ के अध्यक्ष मार्कस प्लीयर ने कहा कि पाकिस्तान एफएटीएफ की ‘ग्रे’ सूची में बना रहेगा। पाकिस्तान आतंकवाद के वित्तपोषण को रोकने के लिए कुल 27 कार्ययोजनाओं में से छह को पूरा करने में विफल रहा है। पाकिस्तान को आतंकवाद का वित्तपोषण रोकने के लिए और प्रयास करने की जरूरत है। पाकिस्तान को आतंक के वित्तपोषण में शामिल लोगों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए और मुकदमा चलाना चाहिए।